Khaki Connection

आज भी जुमे की नमाज को लेकर अलर्ट पर UP Police, चप्पे चप्पे पर रखी जा रही नजर

आज भी जुमे की नमाज को लेकर अलर्ट पर UP Police, चप्पे चप्पे पर रखी जा रही नजर

जून महीने की शुरुआती दो शुक्रवार को यूपी में जमकर हिंसा हुई। दोनों शुक्रवार जुमे की नमाज के बाद लोगों ने ना सिर्फ सार्वजनिक स्थलों पर जमकर तोड़फोड़ कर दी बल्कि पुलिसकर्मियों पर भी पत्थर बरसाए। जिसके बाद अब इस शुक्रवार को भी यूपी पुलिस अलर्ट पर है। पुलिस प्रशासन किसी भी कीमत पर माहौल को संभाल कर रखना चाहता है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ, मुजफ्फरनगर, बदायूं, संबल, बरेली, मुरादाबाद और अलीगढ़ में खास निगरानी रखी जा रही है। इसी के साथ पुलिस प्रशासन लगातार लोगों से भी बातचीत करके उनसे शांतिपूर्ण तरीके से नमाज अदा करने की बात कह रहा है।

मेरठ में एसएसपी की कड़ी नजर


जानकारी के मुताबिक, पूर्व में भारत बंद की अफवाह को देखते हुए पिछले दो शुक्रवार से जिले में काफी सतर्कता बरती जा रही है। हर जिले में अलग अलग तरीके से सुरक्षा व्यवस्था संभाली जा रही है। अगर बात करें मेरठ की तो महानगर से लेकर ग्रामीण इलाकों तक में संवेदनशील स्थानों पर पीएसी और आरएएफ तैनात की गई है। मेरठ के मवाना और सरधना क अलावा किठौर इलाके में विशेष नजर रखी जा रही है। मेरठ में शाम के समय कप्तान प्रभाकर चौधरी ने फोर्स के साथ फुट मार्च किया। उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की।

कानपुर में फोर्स तैयार


वहीं कानपुर जिले में भी उपद्रव में फंडिंग करने वाले बाबा बिरयानी के मालिक मुख्तार बाबा की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने सुरक्षा के प्लान में बदलाव करते हुए चौकसी बढ़ाई है। ड्रोन की मदद से सड़कों और घरों की छतों पर जमा ईंट-पत्थरों की फोटो लेने के साथ गूगल मैपिंग कराई है। वहीं जुमे की नमाज की ड्यूटी के लिए फोर्स को सुबह आठ बजे निर्धारित स्थानों और महिला क्यूआरटी को सद्भावना चौकी में पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं। कमिश्नरेट में कुल 50 क्यूआरटी विभिन्न प्वाइंटों पर तैनात रहेंगी। संयुक्त पुलिस आयुक्त ने बताया कि पीएसी और रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ), रैपिड रिएक्शन फोर्स (आरआरएफ) पूर्व की तरह अपने निर्धारित स्थानों पर पहुंचेंगी और गश्त करेंगी।

नोएडा पुलिस है मुस्तैद


नोएडा में खुद गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने अपनी अगुआई में फ्लैग मार्च किया। नोएडा में सुरक्षा के मद्देनजर दर्जनों ड्रोन के जरिए पूरे शहर की निगरानी की जाएगी। पुलिस कमिश्नर ने ये भी बताया कि अगर कोई भी व्यक्ति शांति व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश करेगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस कमिश्नर के फ्लैग मार्च के दौरान जिले के डीसीपी, एडिशनल डीसीपी, एसीपी, एसएचओ और सभी थानों के अधिकारी मौजूद थे। 

वाराणसी में भी की गई बैठक


नमाज के पहले गुरुवार को वाराणसी में थाना दशाश्वमेध क्षेत्र के गंगेज होटल में पीस कमेटी की बैठक की गई। पुलिस उपायुक्त काशी- जोन आरएस गौतम महोदय, सहायक पुलिस आयुक्त दशाश्वमेध अवधेश पाण्डेय, एसीएम द्वितीय पुष्पेन्द्र पटेल, प्रभारी निरीक्षक चौक, थानाध्यक्ष दशाश्वमेध, प्रभारी थानाध्यक्ष लक्सा मौजूद रहे। गोष्ठी में सभासद चन्द्रकांत मुखर्जी, सभासद नरसिंह दास, सामाजिक कार्यकर्ता कामिल अहमद, पूर्व सभासद दिलीप यादव, मो फरीद अहमद, इमरान, अमिताभ दीक्षित, महन्त निर्मल अखाड़ा, रमेश पाण्डेय इतिहासकार, आदि मौजूद धर्म गुरुओं, पार्षदों, सिविल डिफेंस के पदाधिकारी और क्षेत्र के कई सम्भ्रान्त व्यक्ति पहुंचे। अधिकारियों ने सभी से शांति और सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाये रखने की अपील की।

आगरा में भी इंटेलिजेंस सक्रिय


आगरा एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने पुलिस टीम को आदेश दिए कि शुक्रवार को सभी प्रमुख मस्जिदों के आस-पास पुलिस फोर्स तैनात रहेगा। एलआईयू और इंटेलीजेंस सक्रिय हैं। साइबर सेल को अलर्ट किया गया है। हालांकि कहीं किसी प्रकार का तनाव नहीं है। ताजनगरी में अमनचैन बरकरार है। एहतियातन फोर्स तैनात रहेगा। जामा मस्जिद पर सीओ छत्ता सुकन्या शर्मा तैनात रहेंगी। सभी थाना प्रभारी और चौकी प्रभारी नमाज के समय अपने क्षेत्र में रहेंगे।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment