Khaki Connection

बड़ी खबर... रोहिणी कोर्ट बम विस्फोट में पुलिस को बड़ी कामयाबी, DRDO का साइंटिस्ट गिरफ्तार

बड़ी खबर... रोहिणी कोर्ट बम विस्फोट में पुलिस को बड़ी कामयाबी, DRDO का साइंटिस्ट गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने रोहिणी कोर्ट ब्लास्ट मामले में डीआरडीओ के एक साइंटिस्ट को गिरफ्तार किया है। स्पेशल सेल के सूत्रों के मुताबिक साइंटिस्ट रोहिणी कोर्ट में एक वकील को बम धमाके में मारना चाहता था। वकील से उसकी काफी पुरानी रंजिश थी। इसी लिए इसने बम बनाया और उसको कोर्ट रूम 102 में रख दिया था। सीसीटीवी के आधार पर इस साइंटिस्ट की पहचान हुई है। आरोपित का नाम भारत भूषण कटारिया है। 

1 हजार गाड़ियों की जांच पड़ताल

मिली जानकारी के अनुसार, रोहिणी कोर्ट में हुए विस्फोट की जांच कर रही दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने 1000 गाड़ियों की पड़ताल की। जांच की कड़ी में पुलिस ने 100 के करीब सीसीटीवी कैमरों को खंगाला और संदिग्ध फुटेज को ट्रैक भी किया। एक हजार घंटे की फुटेज की पड़ताल में कई चीजें सामने आईं, जिसके बाद पुलिस ने क्राइम सीन का निरीक्षण किया, जहां NSG के साथ FSL की टीम गई थी।

बैग की मदद से वैज्ञानिक तक पहुंची दिल्ली पुलिस

पुलिस जांच में पता चला है कि जिस बैग में विस्फोटक ले जाया गया, उस बैग को मुम्बई में एक कंपनी बनाती थी, लेकिन बाद में कंपनी बंद हो गई। पुलिस को बैग की मदद से भी आरोपित वैज्ञानिक तक पहुंचने में मदद मिली। इस केस में स्पेशल सेल की कई यूनिट लगाई थी।

बम ब्लास्ट में रिमोट का किया गया था इस्तेमाल

पुलिस जांच यह भी पता चला है कि IED के सभी कॉम्पोनेन्ट आम बाजार में मिलते हैं और बारूद में ब्लास्ट नहीं हुआ था, बल्कि सिर्फ डेटोनेटर में ब्लास्ट था। नई कीलें उसमें भी थीं। जिस बैग में विस्फोटक लाया गया था उस बैग में एक कंपनी का लोगो लगा था। बैग से कुछ फाइल और A साइज के पेपर भी मिले थे। वो फ़ाइल कहां बनी, कौन रिटेलर डिस्ट्रीब्यूटर हैं? इस पर भी पुलिस ने काफी काम किया। आरोपित की घर की तलाशी में बैग जो मिला था, बम बनाने की चीजें सब वहां से बरामद हुई।

वैज्ञानिक का वकीलों से पुराना विवाद

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, आरोपित वैज्ञानिक का कुछ वकीलों से पुराना विवाद चल रहा है। आरोपित ने बदला लेने के लिए वकील की कोट पहनकर कोर्ट में गया था। बताया जा रहा है कि आरोपित साइंटिस्ट जिस फ्लैट में रहता था उसके ऊपर वाले फ्लैट में अमित वशिष्ट नाम का एक वकील रहता है, जिससे साइंटिस्ट का पुराना विवाद चल रहा था। दोनों ने एक-दूसरे के ऊपर कई मुकदमें दर्ज करा रखे थे।

मुख्य संवाददाता

HARSH PANDEY

Police Media News

Leave a comment