Khaki Connection

सिटी फॉरेस्ट में बच्ची की रेप,हत्या में दोषी सोनू गुप्ता को 58 दिन में कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

सिटी फॉरेस्ट में बच्ची की रेप,हत्या में दोषी सोनू गुप्ता को 58 दिन में कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

गाजियाबाद के थाना साहिबाबाद इलाके में एक नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म के आरोपी को गाजियाबाद की पोक्सो कोर्ट में न्यायाधीश ने आरोपी को फांसी की सजा सुनाई है। दरअसल सिटी फॉरेस्ट में 4 साल की मासूम बच्ची की हत्या के बाद उसकी लाश के साथ भी दुष्कर्म करने के मामले में दोषी सोनू गुप्ता को अदालत ने फांसी की सजा सुनाते हुए 20 हजार के अर्थदंड से दंडित किया। अदालत ने सोनू को कल ही दोषी करार दिया था। उसने कोर्ट में कुबूल किया कि यह दरिंदगी उसने ही की थी।

घर के बाहर से खेलती बच्ची का करा था अपहरण

मामला साहिबाबाद थाना क्षेत्र का है। जहां 1 दिसंबर 2022 को एक पीड़ित पिता ने केस दर्ज करवाते हुए लिखवाया था। कि 1 दिसंबर को बच्ची को उसकी दादी लगभग दोपहर 1:00 बजे स्कूल से लेकर आई थी,परिवार के लोग घर के अंदर खाना खा रहे थे। बच्ची घर के बाहर खेल रही थी। तभी सोनू ने बच्ची का अपहरण कर लिया, सिटी फॉरेस्ट ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। हत्या के दौरान बच्ची की आवाज किसी को ना सुनाई दे उसके लिए आरोपी ने पोट्टी से सने डायपर को बच्ची के मुंह में ठूंस दिया था। और हत्या के बाद उसकी लाश को वहीं ठिकाने लगा दिया। मामले में कुल 16 गवाह पेश किए गए। पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद आरोपी सोनू गुप्ता को गिरफ्तार किया था। अंतिम सुनवाई पोक्सो कोर्ट में हुई। सोनू गुप्ता को सजा दिलाने में पुलिस द्वारा दिए गए साक्ष्य अहम रहे।

पूरा परिवार रहा अदालत में मौजूद
मृतक मासूम बच्ची का पूरा परिवार अदालत में सोनू गुप्ता की सजा पर सुनवाई के दौरान मौजूद था। पीड़िता के पिता, मां और दादी अदालत से सोनू गुप्ता के लिए फांसी की गुहार लगा रहे थे। मां फूट-फूटकर रो रही थी, लेकिन जैसे ही आरोपी को सजा मिली वैसे ही पीड़ित परिवार के मन में संतोष भी रहा।

मुख्य संवाददाता

Police Media

Police Media News

Leave a comment