Smart Policing

अब और भी ज्यादा मजबूत होगी साइबर क्राइम सेल ....16 जोन में जल्द ही शुरू होगा साइबर जागरुकता कैंपेन

अब और भी ज्यादा मजबूत होगी साइबर क्राइम सेल ....16 जोन में जल्द ही शुरू होगा साइबर जागरुकता कैंपेन

प्रदेश में साइबर क्राइम पैर पसारता जा रहा है। लगातार ही इसकी जड़ों को काटने के लिए साइबर सेल पुलिस को प्रशिक्षित देना शुरू कर दिया गया है। प्रशिक्षण की शुरुआत आगरा जिले से शुरू की गई है। इसी के साथ 16 जोन में साइबर जागरुकता कैंपेन की भी शुरूआत की जाएगी। DGP मुकुल गोयल द्वारा इसे लेकर कहा गया है कि मोबाइल और कंप्यूटर का इस्तेमाल ज्यादा ही बढ़ गया है। जिससे साइबर अपराधों से बचाव के साथ-साथ जनता को जागरूक करने की भी जरूरते हैं। इसके लिए “रोकथाम, इलाज से बेहतर है” के सिद्धान्त पर काम करना बेहद ही जरूरी होगा। जानकारी के मुताबिक आमजन को साइबर अपराधों से बचने की अभी कोई प्रयाप्त जानकारी नहीं है। इसकी कोई साइबर क्राइम की कोई सीमा नहीं है। साइबर अपराधी बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक को टारगेट कर रहे हैं।


अन्य जोन में भी चलेगा कैंपेन

यूपी पुलिस के साइबर सेल में तैनात पुलिसकर्मियों को अभी खास तरह की ट्रेनिंग दी जा रही है। जिसके लिए सभी को सावधान रहने की भी ज्यादा जरूरत है। आगरा जिले में साइबर जागरुकता कैंपेन की तरह यूपी के अन्य जिलों में भी कैंपेन चलाए जाने के लिए निर्देश दिए गए हैं। जिससे की पुलिसकर्मी को साइबर अपराध से जल्द ही निपटने की ट्रैनिंग मिल सके।


862 पुलिसकर्मियों को मिलेगा प्रशिक्षण

आगरा जोन में 12 सेशनों में साइबर क्राइम के विभिन्न विषयों (एटीएम क्लोनिंग, फिशिंग, मालवेयर, पोर्नोग्राफी आदि) को लेकर पुलिसवालों को खासा जानकारी मुहैय्या की जा रही है। जिसके तहत 862 पुलिसकर्मियों को अच्छा खासा प्रशिक्षित दिया जा रहा है। आपको बता दें कि प्रदेश के हर जोन में ठीक ऐसे ही पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षित करने की तैयारी की जा रही है। 


National Cyber ​​Crime Reporting Portal पर दर्ज हैं 50 हजार शिकायतें

पर्देश में हर वर्ष तकरीबन 11 हजार मामले दर्ज किए जाते हैं। जिसमें National Cyber ​​Crime Reporting Portal पर 50 हजार शिकायतें दर्ज की जा रही हैं। जो हर वर्ष बढ़ते ही जा रहे हैं। साल 2019 में 10,341, वर्ष 2020 में 11,772 और वर्ष 2021 में अब तक 5,077 साइबर अपराध की FIR दर्ज हैं।


साइबर थानों पर दर्ज हुए 256 FIR

2020 में 16 रेंज में बने साइबर थानों में 256 साइबर अपराध को लेकर FIR दर्ज की गईं है। जिसके आधार पर पुलिस टीम ने 400 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार भी कर लिया है। साथ ही साथ पीड़ितों के खातों से करीब 6 करोड रुपये भी वापस कराई।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment