Khaki Connection

बुलंदशहर पुलिस की मिलीभगत से अवैध वाहन कटान का गोरखधंधा, 2 दरोगा, 6 कांस्टेबल लाइन हाजिर

बुलंदशहर पुलिस की मिलीभगत से अवैध वाहन कटान का गोरखधंधा, 2 दरोगा, 6 कांस्टेबल लाइन हाजिर

अवैध वाहन कटान के करने वाले माफ़ियाओं से मिली भगत के चलते कोकड थाने के एसएचओ सहित आठ पुलिस कर्मियों के खिलाफ पुलिस कप्तान ने बड़ी कार्रवाई की है। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने ककोड थाने पर तैनात कुछ पुलिस कर्मियों की शह पर अवैध कटान के आरोप में थाने के 2 दरोगा व 6 कांस्टेबलों को लाइन हाजिर कर दिया है। जबकि SHO को कारण बताओ नोटिस जारी कर विभागीय कार्यवाही शुरू कर दी हैं। एसएसपी की सख्ती से पुलिस कर्मियों में हड़कंप मच गया है।


दो सीओ की जांच में हुआ खुलासा

एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि बीते 14 सितंबर को पुलिस को जानकारी मिली थी कि ककोड़ थाना क्षेत्र में कुछ पुलिसकर्मियों की शह पर अवैध वाहन कटान का कारोबार नगला गोविंदपुर व बैर गांव के बीच जंगलों में चल रहा है। मामले की जानकारी पहले से पुलिस को थी। मगर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। गोपनीय तरीके से मामले की जांच सीओ सिटी आईपीएस शशांक सिंह वह सीओ सिकंदराबाद नम्रता श्रीवास्तव को सौंपी गयी। जांच रिपोर्ट में ककोड़ थाने के दो उपनिरीक्षक, 3 हेड कांस्टेबल व 3 कांस्टेबलों की भूमिका संदिग्ध पाई गई, जिसके आधार पर 8 पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है। जबकि ककोड़ थाने के एसएचओ को कारण बताओ नोटिस जारी कर विभागीय कार्यवाही शुरू कर दी गई है।


इन पुलिसकर्मियों पर हुई कार्रवाई

एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि ककोड़ थाने में तैनात उप निरीक्षक नरेंद्र सिंह, सोबरन सिंह, हेड कांस्टेबल जुनैद खा, महेश चंद, हरवीर सिंह त्यागी, कांस्टेबल सौरभ मलिक, बबलु राणा व सचिन मलिक को लाइन हाजिर किया गया है।

कांस्टेबल सचिन मालिक को किया गया निलंबित

अवैध वाहन कटान के मामले की जांच रिपोर्ट आने के बाद एसएसपी ने कांस्टेबल सचिन मलिक को सस्पेंड भी कर दिया है। एसएसपी ने बताया कि एक ऑडियो उन्हें प्राप्त हुई है जिसमें सचिन मलिक की भूमिका संदिग्ध है। मामले की जांच कराई जा रही है।

SSP Santosh Kumar Singh

वाहन कटान का खुलासा

बता दें कि कुछ दिन पूर्व ककोड पुलिस ने नगला गोविंदपुर व बैर गांव के जंगलों में एक प्लॉट में अवैध वाहन कटान का खुलासा किया था तथा पुराने वाहन व वाहनों के पुर्जे बरामद कर वाहन कटान गिरोह के कई सदस्यों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। एसएसपी संतोष कुमार सिंह का कहना है कि वाहन कटान के गोरखधंधे की पहले से ककोड पुलिस को जानकारी थी।

मुख्य संवाददाता

HARSH PANDEY

Police Media News

Leave a comment