Khaki Connection

कानपुर कमिश्नरेट के सभी थानों और चौकियों में तैनात यादव पुलिसकर्मियों को हटाया गया, सिपाही के पोस्ट से विभाग में हड़कंप

कानपुर कमिश्नरेट के सभी थानों और चौकियों में तैनात यादव पुलिसकर्मियों को हटाया गया, सिपाही के पोस्ट से विभाग में हड़कंप

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) की तारीखों का ऐलान होने के बाद राजनीतिक दलों ने तैयारिया तेज कर दी हैं। वहीं, दूसरी तरफ पुलिस विभाग (UP Police Department) ने शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव संपन्न कराने के लिए कमर कस ली है। इस बीच सोशल मीडिया पर पुलिस को लेकर एक पोस्ट वायरल हो रहा है, जिसमें लिखा गया है कि पुलिस कमिश्नरेट में यादव (Yadav) बिरादरी से आने वाले सभी पुलिसकर्मियों को सभी थानों व चौकी से हटा दिया  गया है। इस वायरल पोस्ट को पुलिस अधिकारियों ने संज्ञान में ले लिया है और जांच कर कार्रवाई की बात कही जा रही है।  

चकेरी थाने में तैनात पुलिसकर्मी अतुल यादव ने किया पोस्ट

दरअसल, कानपुर पुलिस कमिश्नरेट में आने वाले चकेरी थाने में तैनात पुलिसकर्मी अतुल यादव ने एक सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए अपने ही विभाग पर सवाल खड़े कर दिए हैं। अतुल यादव ने फेसबुक पर पोस्ट कर लिखा कि कानपुर कमिश्नरेट में  'यादवों को सभी थानों व चौकी के साथ से हटा दिया गया है। यादवों से इतनी नफरत क्यों?'

इस पोस्ट को लिखने के साथ ही एक तस्वीर भी पोस्ट की है यह तस्वीर कोई आम तस्वीर नहीं बल्कि इस तस्वीर में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रमुख और अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव के साथ आरक्षी अतुल और एक महिला दरोगा पिंकी यादव मौजूद है।

अपर पुलिस आयुक्त बोले- जांच की जा रही

जानकारी के अनुसार, यह तस्वीर उस रथ की है जिसमें सवार होकर प्रसपा प्रमुख पूरे प्रदेश में यात्रा कर रहे थे। अभी तस्वीर के वायरल होने के बाद पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। अपर पुलिस आयुक्त आनन्द प्रकाश तिवारी से जब पूछा गया तो उन्होंने कहा कि एक फोटो के वायरल होने का मामला संज्ञान में आया है। साक्ष्यों के आधार पर जांच की जा रही है।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment