Khaki Connection

डूबते को तिनके का सहारा बनी यूपी पुलिस... गोमती नदी में कूदकर जान देने जा रही युवती को पुलिस ने बचाया

डूबते को तिनके का सहारा बनी यूपी पुलिस... गोमती नदी में कूदकर जान देने जा रही युवती को पुलिस ने बचाया

अक्सर देखने को मिलता है कि यूपी पुलिस के अफसर जहां भी रहते हैं वो अपनी कार्यशैली से लोगों के मन में छाप छोड़ देते हैं। फिल्मों में दिखाए जाने वाले पुलिसकर्मी और रियल लाइफ के पुलिसकर्मियों में जमीन आसमान का फर्क है। अगर पुलिसकर्मी अच्छा काम करते हैं तो लोग उन्हें काफी मानते हैं। इसी क्रम में एक बार फिर यूपी पुलिस (UP Police) ने अच्छा काम कर दिखाया और लोगों की वाह-वाह लूटी। दरअसल, खरौना स्थित गोमती नदी के पुल से जलधारा में छलांग लगाने जा रही युवती को पुलिस से बचा लिया। जिसके बाद पुलिस की चारो तरफ काफी सराहना हो रही है। 


ये है मामला...

बता दें रामपुर (Rampur) ढकवां निवासी युवती सहपाठी प्रेमी के साथ शादी न किए जाने से अपने घरवालों से नाराज होकर निकली थी। फरीदहा स्थित श्रीशिव महाविद्यालय (Shri Shiv Mahavidyalaya) में बीएससी द्वितीय वर्ष में पढ़ रही युवती अपने सहपाठी युवक कृष्णकुमार निषाद से अंतरजातीय विवाह करना चाहती थी। वाराणसी (Varanasi) जिले के सरैया निवासी कृष्णकुमार से प्रेम करने पर युवती के घरवालों ने उसकी शादी कहीं और तय कर दी थी। कुछ दिनों बाद लड़के वाले उसे देखने भी आने वाले थे। इसी बीच घरवालों से झगड़ा कर युवती गुरुवार की सुबह घर से निकल गई। 

इतना ही नहीं सिधौना बाजार (Sidhona Bazar) से पैदल दौड़ते हुए पुल की ओर जा रही युवती को देखकर जनपदीय सीमा पर तैनात पुलिसकर्मियों (Policemen) ने रोकना चाहा तो भागने लगी। लेकिन युवती गोमती नदी (Gomti River) में कूदने से पूर्व ही पकड़ ली गई। सिधौना पुलिस चौकी (Sidhona Police Outpost) पर प्रेमी युगल के परिवार वालों की मौजूदगी में दोनों प्रेमियों की आपस में शादी कराने का निर्णय लिया गया।


संवाददाता

HIMANSHU GARG

Police Media News

Leave a comment