Khaki Connection

राजधानी लखनऊ में ट्रैफिक पुलिस की सरेराह पिटाई, मोबाइल भी तोड़ा गया

राजधानी लखनऊ में ट्रैफिक पुलिस की सरेराह पिटाई, मोबाइल भी तोड़ा गया

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में पुलिसकर्मियों से बदसलूकी की घटनाएं कम नहीं हो रही हैं। अभी हाल ही एक बार फिर ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां मवैया चौकी इंचार्ज व दो सिपाहियों पर गांजा तस्करी के आरोपितों ने हमला बोल दिया था। इस मामले को लोग भूल भी नहीं पाए थे कि रविवार दोपहर में बाराबिरवा चौराहे पर उल्टी दिशा से आ रहे कार चालक ने ट्रैफिक सिपाही की सरेराह पिटाई कर दी। आरोपित ने सिपाही को जमीन पर गिराकर मारा और उसका मोबाइल फोन भी तोड़ दिया। बाराविरवा चौराहे पर 2019 बैच के आरक्षी राजू सिंह ड्यूटी कर रहे थे।

कार चालक ने ट्रैफिक पुलिस को सरेराह पीटा

आपको बता दें, इस घटना में राजू सिंह ने बताया चौराहे की ओर कानपुर रोड से विपरित दिशा में एक कार आ रही थी। जब राजू कार को रोककर उसका चालान काटने के लिए मोबाइल फोन से फोटो खींचने लगे। आरोप है कि इसी बात पर कार सवार नीचे उतरा और अभद्रता करने लगा। विरोध पर आरोपित ने सिपाही पर हमला बोल दिया। इससे पहले की वहां मौजूद अन्य पुलिसकर्मी कुछ समझते आरोपित ने सिपाही की पिटाई कर डाली। हमले में सिपाही को चोट आई है। चौराहे पर मौजूद पुलिसकर्मियों व अन्य लोगों ने सिपाही को आरोपित के चंगुल से छुड़ाया। इस बीच कृष्णानगर पुलिस वहां पहुंची और आरोपित को गाड़ी समेत कोतवाली लेकर गई। एडीसीपी मध्य राजेश कुमार श्रीवास्तव के मुताबिक सिपाही की तहरीर पर जानकीपुरम निवासी आरोपित अशोक झा के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने, मारपीट व तोड़फोड़ समेत अन्य धाराओं में एफआइआर दर्ज की गई है। 

संवाददाता

MEGHA CHAUHAN

Police Media News

Leave a comment