Encounter

यह है CM योगी की ठोक दो पुलिस...चंदौली में 3 घंटे में 3 मुठभेड़, अपराधियों में दहश्त

यह है CM योगी की ठोक दो पुलिस...चंदौली में 3 घंटे में 3 मुठभेड़, अपराधियों में दहश्त

यूपी से इस समय की सबसे बड़ी खबर सामने आई है जिसमें चंदौली पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। खबर है कि बीती रात 3 अलग-अलग स्थानों पर पुलिस की बदमाशों के साथ मुठभेड़ में में पुलिस ने कई जिलों में बैंकों के ग्राहक सेवा केंद्रों पर लूट करने वाले एक गैंग के 4 बदमाशों को दबोच लिया। इस बीच एक पुलिसकर्मी सहित 5 लोग घायल हो गए। पुलिस और बदमाशों के बीच ताबड़तोड़ गोलियां चलीं।

पढ़े पूरी खबर

यह मुठभेड़ रात 12:30 से 3:30 बजे तक चली। आपको बता दें कि घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। साथ ही जानकारी के अनुसार पकड़े गए बदमाशों में दो 25 हजार और एक 20 हजार के इनामी हैं। गैंग पर 3 दर्जन केस दर्ज हैं। इतना ही नहीं चंदौली पुलिस ने बदमाशों के पास से 3 पिस्टल, 1 तमंचा, 2 बाइक सहित 2 लाख रुपए कैश बरामद किए हैं। हालांकि, 1 दिन पहले जिले के शिवगढ़ इलाके मुठभेड़ के बाद पुलिस ने इसी गैंग के 3 सदस्यों को गिरफ्तार किया था।

Image

पहली मुठभेड़

SP अमित कुमार के आदेश पर रात सघन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था। जानकारी के मुताबिक सदर कोतवाली पुलिस दिघवट गांव के समीप चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान पुलिस को रात 12:30 बजे 2 बाइक से 4 बदमाश आते दिखे। पुलिस को देखकर 1 बाइक पर सवार 2 बदमाश मौके से भाग निकले। जिसके बाद पुलिस ने दूसरी बाइक का पीछा किया, तो बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। बदमाशों और पुलिस दोनो की ओर से ताबड़तोड़ गोली चलाई गई। मुठभेड़ में 1बदमाश गोली लगने से घायल हो गया। वहीं उसके साथी फरार होने में कामयाब हो गया। चंदौली पुलिस ने घायल को गिरफ्तार कर लिया। बाइक के अलावा उसके पास से एक पिस्टल बरामद हुई। इसके बाद पुलिस ने फरार होने वाले बदमाशों की तलाश शुरू की। सभी थाने को अलर्ट किया गया।

Image

दूसरी मुठभेड़

कई थानों की पुलिस फरार बदमाशों की तलाश कर रही थी। इसी बीच सकलडीहा कोतवाली के पीथापुर गांव में पुलिस टीम चेकिंग कर रही थी। चेकिंग के दौरान दूसरी बार गिरोह के सदस्यों से पुलिस का सामना हो गया। पुलिस से बचने के लिए बदमाशों ने फिर से फायरिंग शुरू कर दी। लेकिन, पुलिस ने बुलेट प्रूफ जैकेट पहन रखी थी। जिस कारण सकलडीहा कोतवाल बाल-बाल बच गए। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। पुलिस की गोली एक बदमाश के पैर पर लगी, जिससे वो घायल होकर जमीन पर गिर गया। घायल बदमाश को गिरफ्तार कर लिया। बदमाश के पास से पुलिस ने एक पिस्टल के साथ दो लाख रुपए बरामद किए।

Image

तीसरी मुठभेड़

पुलिस बलुआ पुलिस मथेला नहर पुलिया चेकिंग कर रही थी। चेकिंग के दौरान बाइक सवार दो युवक आते दिखाई दिए। पुलिस ने उनको रोकने का इशारा किया तो वो भागने लगे। पुलिस ने कंट्रोल रूम को सूचना दी। साथ ही बदमाशों का पीछा किया। इस बीच धानापुर पुलिस ने शहीद गांव के पास चेकिंग शुरू कर दी। थोड़ी देर में बलुआ पुलिस भी वहां पहुंच गई। चेकिंग में अपाचे बाइक पर सवार दो बदमाश आते दिखाई दिए। पुलिस के जाल में खुद को घिरता देख बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग में धानापुर थाने पर तैनात सिपाही रूपेश दुबे के दाहिनी हाथ में गोली लगने से वो घायल हो गए। इसके बाद धानापुर और बलुआ पुलिस ने भी फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस की फायरिंग में दोनों बदमाश घायल हो गए। पुलिस ने मौके से एक पिस्टल एक तमंचा और कुछ कारतूस खोखा बरामद किया है।

Image

रात भर जागकर SP ने खुद संभाला मोर्चा

SP ने पूरी रात जागकर मुठभेड़ की कमान संभाली। एसपी अमित कुमार ने जानकारी दी कि जिले में 1 अंतरप्रांतीय लूटेरा गैंग सक्रिय था। गिरोह  के सदस्य कई जिलों में बैंकों के ग्राहक सेवा केंद्र में लूट की घटना को अंजाम दे चुके थे। कई दिनों से पुलिस इनकी तलाश कर रही थी। पुलिस को मिली सूचना पर जिले के अलग-अलग इलाकों में चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था। इस बीच सदर कोतवाली के निकट दिघवट, सकलडीहा कोतवाली के पीथापुर और धानापुर थाना के शहीद गांव के पास पुलिस की गैंग के सदस्यों से मुठभेड़ हो गई। मुठभेड़ में 4 बदमाशों को गिरफ्तार किया गया। गोली लगने से घायल बदमाशों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसमें कृष्णा पर 25 हजार, अरुण पर 25 हजार और अंकुर पर 20 हजार का इनाम घोषित था। यह गैंग चंदौली सहित पूर्वांचल के कई जिलों में सक्रिय था।

Image


बदमाशों ने की थी ग्राहक सेवा केंद्र को लूट

बीते कुछ महीनों से जिले के सकलडीहा सर्किल क्षेत्र में 1 गैंग सक्रिय था। गिरोह के सदस्य बैंकों के ग्राहक सेवा केंद्र को निशाना बनाकर अपने शौक पूरे करते थे। आपराधी वाराणसी में रहते थे। अपने शौक पूरे करने के लिए वो वाराणसी से निकलकर दूसरे जिलों में लूट करते थे। साथ ही बता दें कि गिरोह के सदस्यों ने कई लूट की वारदातों को अंजाम दिया था। लूट के साथ इलाके में दहशत फैलाने के लिए बदमाश फायरिंग भी करते थे। गिरोह के सदस्यों को गिरफ्तार करने के लिए SP अमित कुमार ने कई टीमें बनाई थीं। यह टीमें कई दिनों से बदमाशों की तलाश कर रही थी।

संवाददाता

RITU SINGH

Police Media News

Leave a comment