Super Cop

देश के कुछ पुलिसकर्मी जो फिटनेस में फिल्मी हीरो को भी देते हैं मात

देश के कुछ पुलिसकर्मी जो फिटनेस में फिल्मी हीरो को भी देते हैं मात

पुलिस डिपार्टमेंट (Police Department) एक ऐसा विभाग है, जिसके कर्मचारी और अफसर सभी हमेशा लोगों की मदद और सुरक्षा में डटे रहते हैं। चाहे त्योहार हो, आंधी आए, या तूफान हो, हर कदम पर देश के पुलिसकर्मी लोगों की सेवा में तत्पर रहते हैं। कोरोना काल (corona time) के समय में भी, जब लोग वायरस के डर से अपने घरों में कैद थे तब पुलिस के जवान फील्ड पर मुस्तैद थे। हमेशा ड्यूटी पर तैनात रहने वाले पुलिस के जवानों के लिए खुद पर ध्यान देना बेहद ही मुश्किल हो जाता है। बावजूद इसके देश में कई ऐसे पुलिसकर्मी (policeman) हैं, जो फिटनेस के मामले में फिल्मी हीरो को भी मात देते हैं। आइए आज आपको कुछ ऐसे ही पुलिसकर्मियों के बारे में बताने जा रहे हैं।

इंस्पेक्टर बलदेव कुमार

चंडीगढ़ पुलिस की ट्रेफिक विंग (Traffic Wing) में तैनात इंस्पेक्टर बलदेव कुमार (inspector baldev kumar) अभी तक इंटरनेशनल स्तर पर कई मेडल जीत चुके हैं। कुरूक्षेत्र के रहने वाले बलदेव ने साल 1995 में चंडीगढ़ पुलिस ज्वाइन की थी। अभी उनकी उम्र 53 वर्ष है। इन्हें देश के सबसे फिट पुलिसकर्मियों में शामिल किया गया है। पिछले साल उजबेकिस्तान की राजधानी ताशकंद में आय़ोजित 12वीं डब्ल्यूबीपीएफ वर्ल्ड बॉडीबिल्डिंग एंड फिजिक स्पोर्ट्स चैंपियनशिप- 2021 में इंस्पेक्टर बलदेव कुमार ने ब्रांज मेडल जीता है। वहीं साउथ कोरिया में आयोजित 11वीं वर्ल्ड बॉडी बिल्डिंग एंड फिजिक स्पोर्ट्स चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल और इंडोनेशिया में आयोजित 53वीं एशियन बॉडी बिल्डिंग एंड फिजिक स्पोर्ट्स चैंपियनशिप सिल्वर मेडल जीता। वह हमेशा अपने खाने पीने का ध्यान रखते हैं। वह भूख लगने पर ही खाना खाते हैं और यह भी ध्यान रखते हैं कि उन्हें एक समय में कितना खाना है। इसके अलावा ठंडे पानी और आइसक्रीम आदि से परहेज करते हैं।

जेलर दीपक शर्मा

सुपरिटेंडेंट दीपक शर्मा (Dipak Sharma) मूल रूप से दिल्ली के यमुना विहार के रहने वाले हैं। वह  साल 2009 में पुलिस में भर्ती हुए थे, उस समय वह काफी स्लिम थे। साल 2010 में सलमान खान स्टारर फिल्म दबंग (Dabangg) रिलीज हुई। इस फिल्म ने उनके अंदर नया जोश भर दिया और उन्होंने अपना वजन बढ़ाने की ठान ली। उसके बाद उन्होंने डाइट फॉलो करना और वर्कआउट करना शुरू कर दिया। ,दीपक शर्मा ने 2014 से प्रोफेशनल बॉडी बिल्डर के रूप में करियर शुरू किया और डिपार्टमेंट के लिए कई मेडल जीते। वह मिस्टर यूपी, मिस्टर हरियाणा, मिस्टर दिल्ली, आयरन मैन ऑफ दिल्ली (सिल्वर), स्टील मैन ऑफ इंडिया (सिल्वर मेडल) जैसे कई खिताब जीत चुके हैं।

रूबल धनकर, कांस्टेबल, दिल्ली पुलिस

इन सबमें सिपाही रूबल धनकर (constable rubal dhankar) की कहानी सबसे अलग है। रूबल धनकर, दिल्ली पुलिस में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। वे सोशल मीडिया पर काफी फेमस हैं और एक यू-ट्यूबर भी हैं। वे हमेशा फिटनेस के लिए लोगों को मोटिवेट करते हैं और खुद भी कई बॉडी बिल्डिंग कॉम्पिटिशन में हिस्सा ले चुके हैं। 2009 में उनका आधा फेस पेरालाइज हो गया था, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और खुदको इस मुकाम पर लाकर खड़ा कर दिया।

किशोर डांगे, कांस्टेबल, महाराष्ट्र पुलिस

इस सुपरकॉप को महाराष्ट्र पुलिस (Maharashtra Police) का ‘अर्नोल्ड’ कहा जाता है। किशोर डांगे को बॉडी बिल्डिंग का जुनून रहा है। शानदार बॉडी बनाने वाले किशोर डांगे ने कई बार विदेश में भी देश का नाम रौशन किया है। किशोर की इस शानदार बॉडी के पीछे उनकी 10 साल की कड़ी मेहनत और जिम में की गई कई घंटों की तपस्या है। पुलिस की ड्यूटी पूरी करने के बाद वह कई घंटे जिम में ही बिताते हैं। किशोर डांगे ने एक बार बताया था कि उनके सीनियर अधिकारी भी उन्हें पूरा सहयोग देते हैं। कॉम्पीटिशन के लिए जब भी उन्हें बाहर जाना होता था तो उन्हें आसानी से छुट्टी मिल जाती थी। पूर्व की पृथ्वीराज चव्हाण सरकार ने किशोर के बाहर जाकर कॉम्पीटिशन में हिस्सा लेने का पूरा खर्च भी उठाया था।

मोतीलाल दायमा, कांस्टेबल, मध्य प्रदेश पुलिस

मोतीलाल मध्य प्रदेश सरकार (Madhya Pradesh Government) के भोपाल पुलिस डिपार्टमेंट में कांस्टेबल के पद पर तैनात है। मोतीलाल अब तक 4 बार मिस्टर इंदौर का खिताब अपने नाम कर चुके हैं। फिलहाल मिस्टर इंडिया बनने के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं। मोतीलाल अपने सपनों की उड़ान को यहीं नहीं रोकना चाहते, इसके बाद आगे चल कर वह विश्व स्तर की बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिताओं को जीत कर अपना और देश के नाम रौशन करना चाहते हैं। हाल ही में उनके घुटने का ऑपरेशन भी हुआ है, पर वो जल्द ही वापसी करेंगे।

संवाददाता

Shaista ali

Police Media News

Leave a comment