Crime

सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता संग पुलिस की अमानवीयता.... डीआईजी से लगाई न्याय की गुहार

सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता संग पुलिस की अमानवीयता.... डीआईजी से लगाई न्याय की गुहार

जहां एक ओर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनावों की तैयारियां अपने चरम पर है, तो वहीं दूसरी ओर अपराध और आपराधिक गतिविधियों में भी तेज़ी से इजाफा हुआ है। इसी क्रम में एक मामला सहारनपुर जिले से सामने आया है, जहां चिलकाना थानाक्षेत्र के एक मोहल्‍ले में रहने वाली एक विवाहिता के साथ दो युवकों ने लगातार 14 दिन तक सामूहिक दुष्कर्म किया।  जब पीडिया ने पुलिस से न्याय की मांग कि, तो उसे लाठियों से मारकर भगा दिया गया।जिसके बाद अब पीड़िता ने डीआइजी को प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है।

यह है पूरा मामला 

आपको बता दें कि, विवाहित पीड़िता का कहना है कि, 2 अक्टूबर 2021 को जब वह मायके से ससुराल जाने के लिए बस स्टैंड पर खड़ी थी। तभी उसके मोहल्ले के 2 युवक कार लेकर आए और उन्होंने कहा कि, वह दोनों भी सहारनपुर जा रहे हैं। वह उसे सहारनपुर बस स्टैंड पर छोड़ देंगे। महिला का कहना है कि, दोनों युवक उसे बहला कर अपने फार्म हाउस पर ले गए। जहां पर दोनों युवकों ने उसके साथ 14 दिन तक दुष्कर्म किया। 17 अक्टूबर की सुबह विवाहित पीड़िता किसी तरह वहां से भागी और अंबाला-चंडीगढ़ टोल टैक्स पर पहुंचकर टोल वालो को अपनी परेशानी बताई। टोल कर्मियों ने उसकी मदद कर उसे बस में बैठाकर ससुराल में भेजा दिया। बता दें कि, जब पीड़िता ने ससुराल वालो को अपनी आप बीती सुनाई। तो ससुराल वालों ने भी महिला को घर से निकाल दिया। जिसके बाद वह अपने मायके चली गई। मायके वालों ने उसी समय चिलकाना थाने में तहरीर दिलाई। 

डीआइजी को लिखा प्रार्थना पत्र 

बता दें कि, पुलिस ने पहले दिन तो शिकायत लेकर रख ली। इसके बाद अगले दिन महिला को थाने में बुलाया गया। आरोप है कि थाना में तैनात पुलिस ने विवाहिता को लाठियां मारी और थाने से भगा दिया। कहीं ने कोई सहायता न मिलने पर पीड़िता ने डीआइजी को प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। वहीं, एसएसपी आकाश तोमर का कहना है कि, यह मामला मेरे संज्ञान में नहीं है। यदि महिला के साथ ऐसी हरकत हुई है तो वह आकर मिले। चिलकाना पुलिस के खिलाफ कार्रवाई होगी और महिला का मुकदमा दर्ज करके आरोपितों को जेल भेजा जाएगा।

संवाददाता

ISHA GUPTA

Police Media News

Leave a comment