Khaki Connection

श्रीकांत त्यागी केस: स्वामी प्रसाद मौर्य की नोएडा पुलिस कमिश्नर को खुली चुनौती, बोले- माफी मांगे नहीं तो कोर्ट में घसीटूंगा

श्रीकांत त्यागी केस: स्वामी प्रसाद मौर्य की नोएडा पुलिस कमिश्नर को खुली चुनौती, बोले- माफी मांगे नहीं तो कोर्ट में घसीटूंगा

भाजपा सरकार के पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य (Former Minister Swami Prasad Maurya) ने नोएडा पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह (Noida Police Commissioner Alok Singh) को खुली चुनौती दी है। मौर्य ने कहा कि श्रीकांत त्यागी मामले (Shrikant Tyagi Case) में जिस तरीके से कमिश्नर ने मेरा नाम घसीटा है, वह एक बचकानी हरकत है। इस कृत्य से मेरी छवि खराब की गई है। उन्होंने धमकी भरे लहजे में कहा कि पुलिस कमिश्नर माफी मांगे नही तो उन्हें कोर्ट में घसीटूंगा। 

स्वामी प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया वीडियो


दरअसल, लखनऊ में स्वामी प्रसाद मौर्य ने अपने आवास पर शुक्रवार को मीडिया से बातचीत का वीडियो ट्वीट किया है। यह वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल भी हो रहा है। गौरतलब है कि नोएडा के सेक्टर-93 बी स्थित ओमेक्स ग्रैंड सोसाइटी (Grand Omaxe Society) में रहने वाले श्रीकांत त्यागी (Srikant Tyagi)ने एक सप्ताह पहले अपनी पड़ोसी महिला के साथ अभद्रता और हाथापाई की थी। 

श्रीकांत त्यागी का सहयोग करने का किया था दावा


यूपी एसटीएफ की टीम ने श्रीकांत त्यागी को मेरठ से गिरफ्तार किया गया था। श्रीकांत त्यागी की गिरफ्तारी के बाद नोएडा के पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने खुले मंच से दावा किया था कि श्रीकांत त्यागी की गाडिय़ों पर जो वीवीआइपी नंबर थे उसमें भी पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य का सहयोग रहा है। इस दौरान पुलिस को जो 0001 नंबर की फार्चूनर गाड़ी मिली है उस पर उत्तर प्रदेश विधानसभा के विधायक का जो पास चस्पा हुआ है। उस पास को श्रीकांत त्यागी को पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने उपलब्ध कराया था। पुलिस इसकी तफ्तीश कर रही है।

अब इस मामले में भारतीय जनता पार्टी के पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने मोर्चा खोल दिया है। स्वामी प्रसाद मौर्य कई महत्वपूर्ण पदों पर कई सरकारों में रहे हैं। वह आधा दर्जन से अधिक बार उत्तर प्रदेश विधानसभा के सदस्य थे। हालांकि, 2022 के विधानसभा के चुनाव में उन्हें करारी हार का सामना करना पड़ा।

संवाददाता

Akansha

Police Media News

Leave a comment