Khaki Connection

मां को आपत्तिजनक हालत में देख कांस्टेबल बेटे ने दो भाइयों को उतारा मौत के घाट, हत्या कर जंगल में फेके शव

मां को आपत्तिजनक हालत में देख कांस्टेबल बेटे ने दो भाइयों को उतारा मौत के घाट, हत्या कर जंगल में फेके शव

उत्तर प्रदेश से हत्या का चौका देने वाला मामला सामने आया है। जहां अवैध संबंधों के चलते दो चचेरे भाइयों की दर्दनाक हत्या कर दी गई। दोनों की हत्या सिर धड़ से से अलग करके धड़ को गांव से करीब 40 किलोमीटर दूर संभल में रजपुरा के जंगल में फेक दिए गए। पूरे मामले में पुलिस ने एक महिला और उसके बेटे समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। तो वहीं हत्याकांड का मास्टरमाइंड दिल्ली पुलिस में कांस्टेबल पद पर तैनात है पुलिस जिसकी तलाश में जुट गई है।

पूरा मामला

जानकारी के अनुसार, मामला सलेमपुर थाना क्षेत्र के गांव कैलावन का है। यहां के निवासी सफाई कर्मचारी नरेश का बेटा भूपेंद्र उर्फ गोलू (23) और भतीजा जगदीश (19) एक अक्टूबर को मां काली की शोभायात्रा में शामिल होने निकले जिसके बाद वह घर नहीं लौटे। तब परिजनों ने थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। जिसके बाद दो अक्टूबर को परिजनों से अपहरणकर्ताओं ने 5 करोड़ की फिरौती की मांग की। वहीं जब पुलिस ने मामले की छानबीन कर एक बी-कॉम पास युवक को मुठभेड़ में दबोच लिया। जिसके बाद पूरे हत्याकांड का खुलासा हआ।मुठभेड़ में दबोचे गए आरोपी ने पूछताछ में बताया कि बड़े भाई तुषार जो दिल्ली पुलिस में कांस्टेबल के पद पर तैनात हैं उसने दोनों भाइयों की हत्या कराई है।

दिल्ली पुलिस के कांस्टेबल ने रची हत्या की साजिश

आरोपी ने बताया कि, तुषार ने मां को भूपेंद्र उर्फ गोलू के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया था।जिसके बाद बड़े भाई तुषार ने भूपेंद्र की हत्या की प्लानिंग की। उसके जैसे ही पता चला कि भूपेंद्र अपने चचेरे भाई के साथ शोभायात्रा देखने के लिए निकला हुआ है उसके बाद गांव के एक शख्स की मदद से दोनों को अगवा करके उनके सिर काटकर जंगल में फेंक दिया।जिससे उनकी शिनाख्त न हो सके। मामले में एसएसपी श्लोक कुमार सिंह ने बताया है कि दो युवकों के धड़ बिना सिर के बरामद हुए हैं। आरोपी महिला व उसके एक बेटे समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। तो वहीं दोहरे हत्याकांड का साजिशकर्ता दिल्ली पुलिस का जवान अभी फरार है, उसकी तलाश भी जारी है।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment