Khaki Connection

सहारनपुर: पुलिस प्रशासन की पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, 107 करोड़ की संपत्तियां जब्त

सहारनपुर: पुलिस प्रशासन की पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, 107 करोड़ की संपत्तियां जब्त

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर (Saharanpur) में पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल (Former MLC Haji Iqbal) के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट (Gangster Act) के तहत कार्रवाई की जा रही है। शुक्रवार को जमीन पर कब्जे के मामले में हाजी इकबाल के पुत्र अलीशान (Haji Iqbal Son Alishan Arrested) की गिरफ्तार के बाद शनिवार को हाजी इकबाल की 107 करोड़ रुपए की 125 संपत्तियों को गैगस्टर एक्ट के तहत जब्त कर लिया गया है। 

नौकर नसीम के नाम दर्ज 21 करोड़ की संपत्ति जब्त

सहारनपुर के साथ ही अन्य जिलों में भी अवैध खनन और जमीनों की खरीद में पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल पर फिर बड़ी कार्रवाई की जा रही है। नौकर नसीम के नाम दर्ज उसकी 21 करोड़ की सम्पत्तियों को जब्त करने के बाद सहारनपुर जिला प्रशासन अब आज उसकी 107 करोड़ रुपए की 125 संपत्तियों को जब्त करेगा। इससे पहले कल हाजी इकबाल के बेटे अली शान को गिरफ्तार किया गया था।

हाजी इकबाल की जब्त होंगी 174 संपत्तियां


सूत्रों ने बताया कि सहारनपुर में शनिवार को मिर्जापुर थाना क्षेत्र में हाजी इकबाल और उसके सहयोगियों के नाम दर्ज  107 करोड़ की कुल 125 सम्पत्तियों को जब्त कर लिया गया। इस तरह हाजी इकबाल के कुनबे पर अब तक कुर्की की कार्रवाई में कुल 174 सम्पत्तियां जब्त होंगी, जिनकी कीमत 128 करोड़ रुपए है। थानाध्यक्ष मिर्जापुर के साथ ही आज एसपी ग्रामीण, एडीएम, एसडीएम, सीओ तथा तहसीलदार की देखरेख में हाजी इकबाल की संपत्तियों को जब्त किया गया। कार्रवाई दोपहर 12 बजे के बाद शुरू हुई।

बसपा से विधान परिषद सदस्य रहे हैं हाजी इकबाल

बता दें कि सहारनपुर निवासी हाजी इकबाल प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी से विधान परिषद सदस्य थे। हाजी इकबाल का सहारनपुर में एक कॉलेज भी है। इसके साथ हाजी इकबाल प्रदेश में लखीमपुर खीरी, गोरखपुर और सीतापुर की चीनी मिलों में निदेशक है। हाजी इकबाल के तार खनन माफिया से भी जुड़े हुए है और वह खुद भी खनन माफिया है। हाजी इकबाल के खिलाफ पर लकड़ी तस्करी, अवैध खनन, भूमि कब्जाने, लोगों को डराने धमकाने जैसे आरोप में कई मुकदमे भी दर्ज हैं।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment