Khaki Connection

अब 10 फीसदी महंगी हुई निजी पुलिस सुरक्षा

अब 10 फीसदी महंगी हुई निजी पुलिस सुरक्षा

गृह विभाग ने निजी व्यय पर सुरक्षा की दरें बढ़ा दी हैं। अब लोगों को निजी खर्च पर गनर और शेडो पाने के लिए 10 फीसदी ज्यादा कीमत चुकानी होगी। 10 फीसदी निजी व्यय की स्थिति में संबंधित पुलिसकर्मी के वेतन का 10 फीसदी हिस्सा सुरक्षा पाने वाले से वसूला जाएगा,सुरक्षा पाने वाले से  जबकि 90 फीसदी हिस्सा सरकार देगी। 

OTHER VIDEO :

जानिए क्या है पूरा मामला 

जानकारी के मुताबिक पुलिस विभाग दो तरह से लोगों को सुरक्षा प्रदान करता है। ए-कैटेगरी में वे लोग आते हैं जो किसी आपराधिक मामले में वादी, गवाह या पैरोकार हैं। ऐसे लोगों को कोर्ट या अधिकारियों के निर्देश पर मुफ्त में सुरक्षा मिलती है। बी-कैटेगरी में वे लोग आते हैं जिन्हें अन्य दूसरे कारणों से जान का खतरा बना रहता है। इसमें वीवीआईपी, कारोबारी और अन्य धनाढ्य लोग भी शामिल हैं। ऐसे लोगों को 10 से 100 फीसदी के निजी खर्चे पर चार श्रेणियों में सुरक्षा दी जाती है। जनपदीय और मंडलीय सुरक्षा समिति तय करती है कि सुरक्षा चाहने वाले की आर्थिक हैसियत कितनी है। उसी हिसाब से उनसे सुरक्षा का निजी व्यय वसूला जाता है। 

OTHER VIDEO :

निजी सुरक्षा की नई दरें

   विवरण                         आरक्षी         मुख्य आरक्षी        सब इंस्पेक्टर
10% निजी व्यय पर        10142        11948        15918
25% निजी व्यय पर        25029        29871        39796
75% निजी व्यय पर        78086        89614        119387
100% निजी व्यय पर        104115        119485        159183
नोट : यह रकम एक माह की है।

संवाददाता

Pooja singh

Police Media News

Leave a comment