Khaki Connection

सीतापुर जेल में हुई कैदी की मौत,निशाने पर जेल प्रशासन

सीतापुर जेल में हुई कैदी की मौत,निशाने पर जेल प्रशासन

प्रदेश (uttar pradesh) में लगातार जेल (jail) में हो रही कैदियों की मौत से पुलिस प्रशासन पर अब सवालियां निशान उठने लगे हैं। बता दे कि,एक बार फिर सीतापुर (sitapur)में सात दिन पहले जेल में दाखिल हुए एक कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों (suspicious circumstances)में मौत हो गयी। जेल प्रशासन ने परिजनों को सूचना दे दी है। वहीं, जेल प्रशासन ने कैदी की मौत को हार्ट अटैक से होना बताया है।

दुष्कर्म के मामले में सजा काट रहा था दोषी

बता दे कि, मामला सीतापुर के जिला कारागार (jail) का है। यहां बाराबंकी जनपद के घुंघटेर थाना अंतर्गत ग्राम अट्ठार निवासी हरिनाम पुत्र पाटनदीन पर महमूदबाद कस्बे की एक महिला को अपने साथ भगाकर उसके साथ दुष्कर्म (rape)करने का आरोप था। मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी हरिनाम जमानत(bail) पर रिहा चल रहा था लेकिन केस कोर्ट में ट्रायल चलने के बाद 7 जनवरी को कोर्ट ने उसे दुष्कर्म (rape)के आरोप में दोषी करार देते हुए उसे 8 साल की सजा सुनाई थी। परिजनों के मुताबिक, बीती देर रात बंदी हरिनाम की तबियत बिगड़ी तो जेल प्रशासन ने उसकी सूचना परिजनों की दी लेकिन दोपहर में ज्यादा तबियत बिगड़ने की वजह से उसकी मौत हो गयी। परिजनों के जेल पहुंचने से पहले ही कैदी की मौत( death) हो चुकी थी

एक माह के भीतर दो कैदियों की संदिग्ध मौत

पुलिस के अनुसार कैदी की हार्ट अटैक (heart attack)से मौत हुई है वहीं इससे पहले बीते  23 दिसंबर को रिहाई से एक दिन पहले एक कैदी की मौत हो गई थी लेकिन जब तक परिजन जेल पहुंचते तब तक उस कैदी की मौत हो चुकी थी बता दे कि, रिहाई से  एक दिन पहले ही कैदी की जेल में मौत हो गयी।उस वक्त भी परिजनों ने जेल प्रशासन (jail administration) पर प्रताड़ना (Torture) का आरोप लगाया था लेकिन जेल प्रशासन ने उस वक़्त भी कैदी की हार्ड अटैक से मौत होना स्वीकार किया था लेकिन एक माह में दो कैदियों की असमय मौत से अब जेल प्रशासन पर सवालियां निशान जरूर खड़े होने लगे है आखिर कैदियों की मौत के पीछे की असल वजह क्या है।

संवाददाता

MEGHA CHAUHAN

Police Media News

Leave a comment