Khaki Connection

पेड़ की सुरक्षा में 24 घंटे तैनात रहती है पुलिस... भारत का VIP पेड़ जिसका पत्ता टूटने पर पुलिस महकमें में मच जाता है कोहराम

पेड़ की सुरक्षा में 24 घंटे तैनात रहती है पुलिस... भारत का VIP पेड़ जिसका पत्ता टूटने पर पुलिस महकमें में मच जाता है कोहराम

आम तौर पर पुलिस को शातिर अपराधियों की धरपकड़ने से लेकर कुख्यातों को ढ़ेर करने के साथ-साथ आम लोगों को सुरक्षा मुहैय्या कराने के लिए जाना जाता है। लेकिन क्या कभी किसी ने सोचा हैं कि यही पुलिस किसी पेड़ की भी 24 घंटे सुरक्षा में तैनात रहती है... जीं हां और ऐसा हम नहीं बल्कि हमारी खबर बंया गया रही है। दरअसल मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल और विदिशा के बीच स्थित रायसेन जिले के सलामतपुर की पहाड़ी पर लगा है देश का  सबसे वीवीआईपी पेड़। जिसकी सुरक्षा में 4 पुलिसकर्मी हमेशा स्थाई रूप से 24 * 7 सुरक्षा करते है।

आप भी जानिए क्यों कहते हैं इसे वीवीआईपी पेड़

दअसल श्रीलंका के तत्कालीन राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे भारत आए थे। उन्होंने प्रस्तावित बौध्द विश्वविद्यालय के भूमि पूजन समारोह में यह वोधि वृक्ष लगाया था। जिसके बाद से ही पुलिस और जिला प्रशासन इसकी सुरक्षा करता आया है, वहीं इसका पत्ता भी टूटकर अगर गिर जाता है तो इसकी रिपोर्ट भोपाल में उच्च स्तर तक जाती है।

क्या है खास बात

आपको बता दें कि इस पेड़ की खास बात यह है, कि किसी वीआईपी इंसान की ही तरह इस पेड़ की भी मेडिकल जांच कराई जाती है। सामान्य तौर पर लोग इसे पीपल का पेड़ कहते हैं, लेकिन पैनी नजर बनाए रखते हुए इस पेड़ की पुख्ता सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों को देखने के बाद हर किसी के जहन में यह सवाल जरूर हिचखोले खाता है कि आखिर इस पेड़ में क्या खास बात है। जो इसे भारत का वीवीआईपी पेड़ बनाता है। क्योंकि 15 फीट ऊंची जालियों से घिरा और आस-पास खड़े पुलिस के जवानों को देख यह पेड़ किसी वीवीआईपी की तरह ही लगता है। और सबसे बड़ी बात यह है कि पेड़ इसलिए भी खास है क्योंकि यह बोधी वृक्ष है। जिसे श्रीलंका के राष्ट्रपति ने यहां आकर रौपा था।

15 दिनों में एक बार होती है पेड़ की जांच

बौद्ध धर्मगुरु का मानना है कि भगवान बुध्द ने बोध गया में इसी पेड़ के नीचे ही ज्ञान प्राप्त किया था। वहीं भारत से सम्राट अशोक भी इसी पेड़ की शाखा को श्रीलंका लेकर गए थे। इस पेड़ के स्वास्थ्य का भी ध्यान किसी इंसान की तरह ही रखा जाता है। इसलिए 15 दिनों में एक बार सरकार इसकी जांच कराती है। जिसके साथ ही पेड़ के लिए जरूरी खाद और पानी की भी व्यवस्था की जाती है। सरकार का यह भी प्रयास रहता है कि पेड़ का एक भी पत्ता ना टूटे। जिसके लिए पुलिस हमेशा पेड़ की और गिद्द नजर बनाए रखती है।

सरकार की ओर से भी की गई है खास व्यवस्था

पेड़ को चारों ओर पुलिसकर्मी हमेशा अपनी नजर बनाए रखते हैं। ऐसे में अगर इस पेड़ का एक भी पत्ता टूटता है तो इसकी रिपोर्ट भोपाल सरकार में उच्च स्तर तक जा पहुंचती है। वहीं अगर इस पेड़ का एक भी पत्ता सूख जाता है, तो पुलिस प्रशासन में हलचल मच जाती है। सरकार की ओर से पेड़ के लिए खास व्यवस्था भी सुनिश्चित की गई है। जिसमें उद्यानिकी विभाग, राजस्व, पुलिस और सांची नगरपरिषद मिलकर अपना अपना कार्य करते हैं। ये सभी विभाग इस बोधि वृक्ष का ध्यान रखने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment