Super Cop

गुलाबी ठंड में Noida Police को आ रहे हैं पसीने!, वजह बनीं नई Police Commissioner

गुलाबी ठंड में Noida Police को आ रहे हैं पसीने!, वजह बनीं नई Police Commissioner

हाल ही में उत्तर प्रदेश में कई आईपीएस अफसरों के कार्यक्षेत्र में बदलाव किया गया। इस लिस्ट में आईपीएस लक्ष्मी सिंह का नाम भी शामिल था। आईपीएस लक्ष्मी सिंह को नोएडा जिले का पुलिस कमिश्नर बनाया गया। तैनाती के बाद ही उन्होंने ये साफ कर दिया था कि वो किसी भी तरह से ड्यूटी के प्रति लापरवाही करने वालों को बक्शने वाली नहीं हैं। इसी क्रम में जब से उन्होंने जिले की जिम्मेदारी संभाली है तब से वो लगातार लापरवाह पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई कर रही हैं। ऐसे में लोग मान रहे हैं कि इस गुलाबी ठंड में पुलिस कमिश्नर की वजह से नोएडा पुलिस के पसीने छूट रहे हैं।

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल 


जानकारी के मुताबिक, अगर हाल ही की बात करें तो पुलिस कमिश्नर ने एक ऐसे एसएचओ को सस्पेंड किया, जिसने महिला सिपाही के साथ हुई लूट को वारदात को रफा दफा किया था। इस वाकिए में नोएडा की पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह का सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में कमिश्नर लक्ष्मी सिंह कहती हैं- ये कोई एक्सक्यूज नहीं है… मैं आपके एसओ को सस्पेंड करुंगी… मुझे ऐसे एसओ बिल्कुल नहीं चाहिए। एसओ विवेक श्रीवास्तव पर महिला सिपाही से लूटपाट का मामला रफा-दफा करने का आरोप लगा।

लगातार कर रहीं हैं कार्रवाई


ये वीडियो वायरल होते ही पुलिसकर्मियों में ये संदेश तो पहुंच ही गया है कि पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह किसी भी हालत में ड्यूटी के प्रति लापरवाही करने वालों को छोड़ने वाली नहीं हैं। इससे पहले भी गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने चार्ज लेते ही एक्शन लेना शुरू कर दिया था। पदभार संभालते के तुरंत बाद CM के प्रोटोकॉल में लापरवाही बरतने के कारण पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने पीआरओ समेत तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। इसके साथ ही पुलिस कमिश्नर कइयों को चेतावनी भी दे चुकी हैं।

कौन है आईपीएस लक्ष्मी सिंह


बता दें कि IPS लक्ष्मी सिंह एक बेहद तर्रार पुलिस अधिकारी हैं। अपने बेहतरीन प्रदर्शन और जिम्मेदारी का इमानदारी से निभाने के लिए उन्हें कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया जा चुका है। आईपीएस लक्ष्मी सिंह को मुख्यमंत्री उत्कृष्ट सेवा पुलिस पदक से सम्मानित किया जा चुका है। इसके अलावा उन्हें केंद्रीय गृह मंत्रालय पीटीएस की ओर से मेरठ को भारत में नंबर वन संस्थान घोषित करते हुए 2 लाख रुपये का इनाम भी दिया गया।

मुख्य संवाददाता

Police Media

Police Media News

Leave a comment