Khaki Connection

मेरठ: SSP ने गोतस्करों की जांच को उतारे 500 सिपाही-दारोगा, 10 दिन का दिया टास्क, हर गोतस्कर का मांगा रिकॉर्ड

मेरठ: SSP ने गोतस्करों की जांच को उतारे 500 सिपाही-दारोगा, 10 दिन का दिया टास्क, हर गोतस्कर का मांगा रिकॉर्ड

उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) जनपद में गोकशी की वारदातों (Cow Slaughter) को रोकने के लिए एसएसपी रोहित सिंह सजवाण (SSP Rohit Singh Sajwan) ने नया प्लान बनाया है। यह प्लान थाना स्तर पर तैयार किया गया है, जिसके तहत शहर और देहात के 500 सिपाही और दारोगा (500 Sub Inspector And Constables) को टास्क दिया गया है। इस टास्क के बाद सभी सीओ अपनी रिपोर्ट एसएसपी (CO Report to SSP) को सौपेंगे। 

एसपी देहात ने दी प्लान की जानकारी

एसपी देहात केशव कुमार (SP Dehat Keshav Kumar) ने बताया कि गोकशी की घटनाओं को रोकने के लिए प्लान बनाकर अभियान शुरू किया गया है, जो दस दिनों तक चलेगा। इसमें बीट सिपाही, फैंटम सिपाही, चौकी इंचार्ज के अलावा अलग से सभीथानों के दारोगा भी लगाए गए हैं। इसके तहत गोतस्कर पूर्व में कब जेल गए?, जेल से कब रिहा हुए?, जेल में हैं तो कब से हैं? जेल से आने के बाद क्या कर रहे हैं? परिवार को क्या-क्या जानकारी है। इसकी डिटेल जुटाई जाएगी। 

गांव के प्रधान व पार्षदों से भी मांगा सहयोग

वहीं, एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने इस मामले में सभी थाना प्रभारियों को यह जिम्मेदारी सौंपी है कि शहर में वार्ड के पार्षद, गांव में गांव प्रधान से पूरी रिपोर्ट तैयार कराएं कि कहां कहां गौशाला हैं। कितने गौवंश हैं, बाहर घूमने वाले गौवंश को गौशाला में भिजवाया जाए।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment