Khaki Connection

मनीष हत्याकांड: हत्यारोपी 6 पुलिसकर्मियों को जल्द ही रिमांड पर लेगी एसआईटी.... आखिर क्या राज उगलेंगे आरोपी

मनीष हत्याकांड: हत्यारोपी 6 पुलिसकर्मियों को जल्द ही रिमांड पर लेगी एसआईटी.... आखिर क्या राज उगलेंगे आरोपी

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में कानपुर कारोबारी मनीष गुप्ता हत्याकांड मामले में सभी 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। वहीं जेल गए आरोपी पुलिसकर्मियों को कानपुर की एसआईटी टीम जल्द ही रिमांड पर लेकर पूछताछ करने वाली है। तो वहीं सूत्रों की माने तो आरोपी पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में एसआईटी दोबारा सीन री-क्रिएट कर सकती है। जिससे मामले को सुलझाने में भी मदद मिले।

जल्द आरोपियों को रिमांड पर लेगी एसआईटी

कानपुरी कारोबारी मनीष गुप्ता हत्याकांड मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी मीनाक्षी की तहरीर के बाद इंस्पेक्टर जेएन सिंह, चौकी इंचार्ज रहे अक्षय मिश्रा, उप निरीक्षक विजय यादव, राहुल दुबे, हेड कांस्टेबल कमलेश यादव, कांस्टेबल प्रशांत को मामले में हत्यारोपी बनाया था, जिसके बाद इन सभी आरोपी पुलिसकर्मियों पर सख्त कार्रवाई करते हुए निलंबित कर दिया गया था। जांच के दौरान एसआईटी कानपुर में साक्ष्य छिपाने की धारा बढ़ाई और सभी आरोपियों पर 1-1 लाख का इनाम घोषित किया था। आरोपियों को गिरफ्तार करने में लगी गोरखपुर पुलिस ने काफी फुर्ती के साथ सभी आरोपी पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। अब एसआईटी आरोपियों को रिमांड पर लेकर पूछताछ करने की तैयारी में है।

क्या था पूरा मामला

कानपुर के बर्रा निवासी कारोबारी मनीष गुप्ता 27 सितंबर की सुबह 8 बजे गोरखपुर घूमने गए थे। इनके साथ हरियाणा के मित्र हरबीर और प्रदीप भी थे। तीनों युवक तारामंडल स्थित होटल कृष्णा पैलेस के कमरा नंबर 512 में रुके हुए थे। इसी बीच रामगढ़ताल थाना प्रभारी जगत नारायण सिंह समेत 6 पुलिसकर्मी देर रात तकरीबन 12 बजे कमरे की तलाशी लेने पहुंचे। वहीं आधी रात कमरे की तलाशी लेने पर मनीष ने आपत्ति जताई तो पुलिसकर्मियों से उनका विवाद हो गया। आरोप है कि इंस्पेक्टर जगत नारायण सिंह और पुलिस टीम ने पीट-पीटकर मनीष की हत्या कर दी। लेकिन पुलिसकर्मियों का कहना है कि मनीष शराब के नशे में धुत थे और बेड से नीचे गिरने के कारण उनकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मनीष के शरीर पर कई जगह चोट के निशान मिले। मनीष की पत्नी मीनाक्षी की तहरीर पर पुलिस ने 6 पुलिसकर्मियों पर हत्या का केस दर्ज किया गया है। जिसकी विवेचना कानपुर एसआइटी कर रही है।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment