Khaki Connection

मनीष हत्याकांड : पुलिस ने 1 लाख के इनामी हेड कांस्टेबल कमलेश यादव को किया गिरफ्तार.... उपनिरीक्षक विजय यादव है फरार

मनीष हत्याकांड : पुलिस ने 1 लाख के इनामी हेड कांस्टेबल कमलेश यादव को किया गिरफ्तार.... उपनिरीक्षक विजय यादव है फरार

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में कानपुर कारोबारी मनीष गुप्ता हत्याकांड मामले में एसआईटी और पुलिस लगातार आरोपियों को धरदबोचने में कामयाबी हांसिल कर रही है। पुलिस ने हत्याकांड में शामिल 1 लाख के इनामी एक और आरोपी पुलिसकर्मी को गिरफ्तार कर लिया है। आपको बता दें कि हत्याकांड मामले में वांछित चल रहे हेड कांस्टेबल कमलेश यादव को गोरखपुर पुलिस ने बुधवार को दोपहर 1:00 बजे गिरफ्तार किया है। एसआईटी कमलेश यादव से पूछताछ करने में जुटी है। फिलहाल अभी आरोपी उप निरीक्षक विजय यादव फरार चल रहा है जिसको तलाशने के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है।

14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में भेजा जेल

गौरतलब है कि हत्यारोपित दरोगा राहुल दुबे और सिपाही प्रशांत कुमार को पुलिस ने मंगलवार की दोपहर गिरफ्तार किया था। दोनों ही कोर्ट में सरेंडर करने की फिराक में थे। पुलिस ने आजाद चौक से दोनों को गिरफ्तार करके कानपुर एसआईटी के सुपुर्द कर दिया है। एसआईटी ने दोनों से करीब साढ़े 5 घंटे तक पूछताछ की। देर रात रामगढ़ताल थाने में दोनों का मेडिकल कराया गया। इसके बाद रिमांड मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश किया गया है। कोर्ट के आदेश पर दरोगा और सिपाही को 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया है। जहां से देर रात 9:45 बजे दोनों को नेहरू बैरक रवाना किया गया। इसी बैरक में मुख्य हत्यारोपी निलंबित इंस्पेक्टर जेएन सिंह और दरोगा अक्षय मिश्रा पहले से बंद हैं।

सभी पर 1-1 लाख का इनाम था घोषित

दरअसल इस मामले में 6 पुलिसकर्मी मुख्य आरोपी थे। जिसमें से 5 को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। लेकिन मामले में एक अन्य आरोपी उपनिरीक्षक विजय यादव अभी भी पुलिस गिरफ्त से दूर है। इससे पहले 10 अक्तूबर को पुलिस ने मुख्य आरोपी इंस्पेक्टर जेएन सिंह और दरोगा अक्षय मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया था। कानपुर पुलिस की ओर से सभी 6 आरोपी पुलिसकर्मियों पर 1-1 लाख का इनाम घोषित है।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment