Encounter

गोलियों की तड़तड़ाहट से गुंज उठा कुशीनगर जिला... तड़के ही 2 बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार

गोलियों की तड़तड़ाहट से गुंज उठा कुशीनगर जिला... तड़के ही 2 बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश का कुशीनगर जिला आज तड़के गोलियों की तड़तड़ाहट से गुज उठा। जब स्वाट और रामकोला पुलिस की हत्यारोपी शातिर बदमाश विकास सिंह व उसके साथी गणेश तिवारी संग मुठभेड़ हुई। दरअसल पुलिस ने रामकोला क्षेत्र के टेकुआटार नहर के पास बदमाशों को घेर लिया। बदमाशों ने खुद को पुलिस से घिरता देख फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें पुलिस की जवाबी कार्रवाई में बाइक सवार बदमाश विकास दाहिने पैर में गोली लगने से घायल हो गया। पुलिस ने मौके पर ही उसे गिरफ्तार कर लिया। लेकिन बाइक पर पीछे बैठा गणेश मौके पर ही फरार हो गया जिसे पुलिस ने कांबिंग के जरिए गिरफ्तार कर लिया। बदमाशों के कब्जे से पिस्टल और कारतूस बरामद हुआ है। पुलिस ने घायल बदमाश को प्राथमिक इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया है।

आखिर कैसे हुई पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़


स्वाट टीम को आज तड़के कसया क्षेत्र में गश्त पर थी। इसी बीच पुलिस को बदमाशों के आने की जानकारी मिली की भाड़े पर हत्या करने वाले 2 शातिर बदमाश रामकोला की तरफ जा रहे हैं। स्वाट टीम रामकोला पुलिस बदमाशों की तलाश के लिए जा निकली। पुलिस ने बदमाशों की लोकेशन को ट्रेस कर लिया। जिसमें बदमाशों की मौजूदगी निकट ही मिली। पुलिस ने 4 बजे गांव के निकट की नहर पर बनी पटरी पर दोनों बदमाशों को घेर लिया। पुलिस से खुद को बदमाशों से घिरता देख टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने भी बचाव करते हुए जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की जिसमें बदमाश विकास सिंह के दाहिने पैर में गोली जा लगी। लेकिन पीछे बैठा दूसरा बदमाश गणेश तिवारी अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया। लेकिन पुलिस ने गन्ने के खेतों में कांबिंग कर आधे घंटे के भीतर ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया।

मौके पर पहुंचे आला अधिकारी

पुलिस की इस कार्रवाई के बाद एसपी सचिन्द्र पटेल, अपर पुलिस अधीक्षक एपी सिंह मौके पर पहुंच गए। एसपी ने जानकारी देते हुए बताया कि दोनों ही शातिर बदमाश हैं। जो पैसे लेकर हत्या को अंजाम देते हैं। विकास सिंह के खिलाफ बिहार प्रांत के सिवान, गोपालगंज जनपद के अलावा यूपी के बलिया, गाजीपुर में हत्या के लगभग आधा दर्जन मुकदमे पंजीकृत हैं। गणेश के खिलाफ भी हत्या व हत्या के प्रयास के मुकदमे दर्ज हैं।

प्रधान की हत्या का लेना था बदला 

दरअसल बदमाशों से पूछताछ में जानकारी मिली कि उनका मूल  उद्देश्य रामकोला थाने के खैरटवा गांव निवासी प्रधान रामसेवक कुशवाहा की हत्या करना था। इसके लिए उन्होंने पूरी योजना पहले से ही तय कर ली थी। एसपी ने बताया कि हत्या की सुपारी देने वाले को भी हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ में जुटी है। इसके बाद ही मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment