Crime

युवक को अगवा कर अपहरणकर्ताओं ने मांगी 25 किलो सोने की फिरौती

युवक को अगवा कर अपहरणकर्ताओं ने मांगी 25 किलो सोने की फिरौती

उत्तरप्रदेश के इलाहाबाद के मिर्जापुर में अपहरण का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक पुलिस की वर्दी पहने दो बाइक सवार  लोगों ने रात के समय एक ग्रामीण युवक को कट्टे के बल पर बाइक पर बैठाकर अगवा कर लिया। और फिर अपहरणकर्ताओं ने अपहृत युवक के परिजनों से फिरौती के तौर पर 25 किलो सोने की डिमांड कर डाली। बताया जा रहा है कि अपहृत युवक के  परिजनों को कुछ साल पहले जमीन में गड़ा हुआ सोना मिला था।  फिलहाल पुलिस कई एंगल लेकर मामले की जांच कर रही है

जानिए पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक बजटा गांव के चकिया मजरा निवासी श्रीकान्त बिन्द घर से महज कुछ कदम की दूरी पर स्थित गुमटी पर चाय पीने गया था। गुमटी पर पहले से ही गांव के तीन चार लोग भी खडे थे कि रात आठ बजे के करीब जिगना की तरफ से दो मोटर साइकिल सवार हेलमट पहने लोग पुलिस की वर्दी में गुमटी पर पहुंचे। उन्होने श्री कान्त बिन्द के बारे में पूछा तो वहां मौजूद श्रीकांत ने खुद का  परिचय दिया। और फिर अपहरणकर्ताओं ने श्रीकान्त बिन्द को बांह से पकड़ कर मोटर साइकिल पर बैठा लिया और नयेपुर से घुघुडी मार्ग नहर पटरी के रास्ते होते हुए फरार हो गए। वहीं गमुटी पर खड़े लोग देखते रहे और अपरहरणकर्ता युवक को अगवा कर ले गए। वहीं प्रत्यक्षदर्शियो का कहना है कि अपहरणकर्ताओं ने श्रीकान्त की कमर पर कट्टा लगाकर उसे  मोटरसाइकिल पर बैठा लिया और किसी को भनक तक नही लगी।

अपहरणकर्ताओं ने 25 किलो सोने की मांगी फिरौती

वहीं श्रीकांत बिन्द को अगवा करने के थोडी देर बाद ही परिजनों को भी उसके अपहरण की जानकारी हो गई। रात लगभग 11 बजे रात अपहरणकर्ताओं ने श्रीकान्त के मोबाइल से ही उसके पिता नन्दलाल को  फोन किया और बेटे के बदले 25 किलो सोने की फिरौती मांग डाली । नन्दलाल बिन्द ने अपहरणकर्ताओं से फिरौती पहुंचाने का स्थान पूछा और ये भी कहा कि उनके पास इतना सोना कहा हैं। इस पर अपहरणकर्ताओ ने कहा कि अगर आधे घन्टे मे  सोना नहीं मिला तो वे श्रीकान्त को मार डालेंगे। ये बात कहकर अपहरणकर्ताओं ने फोन काट दिया और फोन स्विच आफ कर दिया। आधे घन्टे बाद फिर परिजनों के पास फोन आया जिसमें अपहरणकर्ताओ ने फिरौती का सोना पहुंचाने के लिए कहा। वहीं परिजनों के पूरे मामले की जानकारी  रात में ही पुलिस को दे दी थी जिसपर जिगना पुलिस हरकत मे आ गई।

अपहरणकर्ता परिजनों को भटकाते रहे

 रात करीब12:30 बजे अपहरणकर्ताओं ने इलाहाबाद जनपद के घुघुडी गांव के पास नहर पुलिया पर पिता नन्द लाल को सोना लाने के लिए कहा। पुलिस  पिता नन्द लाल को लेकर फिरौती वाली जगह पहुंच गई और छिप गई। वहीं अपहरणकर्ताओं ने नंजलाल को फिरौती वाली जगह पर झोला रखने के लिए कहा। गौरतलब है कि इससे पहले अपहरणकर्ता  परिजनो को भटकाते रहे कभी इलाहाबाद जनपद के माण्डा रोड स्टेशन पर बुलाया तो कभी घुघुडी फाटक पर फिर घुघुडी नहर पटरी पर स्थित ईट भट्ठे पर बुलाया। बहरहाल जैसे ही पिता नंदलाल ने फिरौती वाला झोला  रखा तो अपहरणकर्ताओ ने पीछे होने को कहा। इसी बीच अपहरणकर्ता फिरौती का झोला लेने पहुंचे और फिर पुलिस से मुठभेड़ हो गई। लेकिन अपहरणकर्ता फरार हो गए ।रात भर पुलिस और परिजन परेशान रहे लेकिन श्रीकांत को नहीं ढूंढा जा सका। वहीं भोर में परिजन भट्ठे में ‌श्रीकान्त को खोज रहे थे कि ग्रामीणों ने उनकी पिटाई कर दी। सुबह मौके पर पहुंची डागस्वकायड की टीम एसओजी प्रभारी रामस्वरुप वर्मा, एसओ चील्ह व जिगना थानाप्रभारी ने भी मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल की।

अपहृत श्रीकांत के परिवार को कुछ साल पहले मिला था सोना

वहीं श्रीकांत के अपहरण के मामले में ये बात सामने आई है कि अपहृत श्रीकांत के परिवार को कुछ साल पहले पूर जमीन में गड़ा हुआ सोना मिला था और ये बात रिश्तदारों को भी पता थी। पुलिस इसकी तस्दीक कर रही है कि खजाना मिलने की बात कितनी सही है। वहीं पुलिस अधीक्षक विपिन मिश्र ने बताया कि पुलिस तीन एंगल्स पर जांच कर रही है। जल्द ही पूरा मामला सामने आ जाएगा। वहीं 25 किलो सोने के बाबत बताया गया कि पुलिस ने फि‍रौती के लिए बैग में सोने की जगह ईट और पत्‍थर भर दिए थे।

संवाददाता

Pooja singh

Police Media News

Leave a comment