Crime

लखीमपुर मामले में अब BJP नेता सुमित जायसवाल की तहरीर पर 10 से 15 अज्ञात के खिलाफ UPPOLICE ने दर्ज की FIR

लखीमपुर मामले में अब BJP नेता सुमित जायसवाल की तहरीर पर 10 से 15 अज्ञात के खिलाफ UPPOLICE ने दर्ज की FIR

लखीमपुर खीरी में रविवार को हुई हिंसा के बाद केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी  के समर्थक और भाजपा नेता सुमित जायसवाल ने 10-15 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या, आपराधिक साजिश और बलवा सहित कई धाराओं में एफआईआर दर्ज कराई है. इससे पहले पूरे मामले में पुलिस ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा समेत 14 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया था. हालांकि अभी तक इस मामले में किसी की भी गिरफ़्तारी नहीं हुई है. फिलहाल पुलिस घटना की जांच पड़ताल में जुटी है. जानकारी के मुताबिक एसटीएफ सोमवार शाम से ही जांच अपने हाथ में ले लेगी. उधर पुलिस ने हिंसा के बाद वायरल वीडियो से 24 लोगों की शिनाख्त की है. साथ ही पुलिस सात लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

8 दिन के भीतर जांच कर आरोपियों की गिरफ़्तारी

योगी सरकार ने हिंसक झड़प में मारे गए चार किसानों के परिजनों को 45-45 रुपए आर्थिक मदद दी जाएगी. साथ ही मृतक परिवारों के एक सदस्य नौकरी और मामले की आठ दिन के भीतर जांच कर आरोपियों की गिरफ़्तारी की जाएगी. इसके अलावा घायलों को 10-10 लाख रुपये की मदद दी जाएगी. किसानों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी. पूरे मामले की हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज से न्यायिक जांच भी की जाएगी. सोमवार सुबह से दो राउंड की बैठक के बाद प्रशासन और किसानों के बीच सहमति बन गई है. जिसके बाद किसानों ने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजने की बात कही.

लखीमपुर खीरी में नेताओं की एंट्री बैन

प्रशांत कुमार ने कहा कि जिले में धारा 144 की वजह से किसी भी नेता को एंट्री नहीं दी जाएगी. उन्होंने कहा कि किसान यूनियन के सदस्यों और किसान नेताओं के आने जाने पर कोई रोक नहीं है. मौके पर भारी पुलिसबल और PAC की कंपनियां तैनात हैं.

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment