Others

चयन होने के बाद भी नहीं होती IAS अधिकारियों की राह आसान, कड़ी ट्रेनिंग में सीखनी होती है यह खास बातें

चयन होने के बाद भी नहीं होती IAS अधिकारियों की राह आसान, कड़ी ट्रेनिंग में सीखनी होती है यह खास बातें

भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) बनने के लिए हर साल लाखों कैंडिडेट्स UPSC परीक्षा देते हैं। लेकिन चुनिंदा लोगों का ही इस परीक्षा में चयन हो पाता है। कैंडिडेट्स IAS अधिकारी बनने के बाद कई अहम पदों पर अपनी सेवाए देते हैं। IAS मिलने वाले कैंडिडेट्स की ट्रेनिंग मसूरी स्थित 'लाल बहादुर शास्त्री नेशनल अकेडमी ऑफ एडमिनिस्ट्रेशन' में होती है।

ट्रेनिंग को मुख्यत

पांच खंडों में विभाजित किया गया है, जिसमें पहला है फाउंडेशन कोर्स, दूसरा- फेज-1, तीसरा- डिस्ट्रिक्ट ट्रेनिंग, चौथा- फेज-2, पांचवा होता है- असिस्टेंट सेक्रेटरी-शिप। IAS ट्रेनिंग-डिस्ट्रिक्ट सबसे अहम होता है। क्योंकि इसमें UPSC क्लियर कर आईएएस बनने जा रहे हैं।
कैंडिडेट्स को जिला स्तर पर ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है। यानी इंस्टीट्यूट से बाहर डीएम या कलेक्टर के नीचे उनकी ट्रेनिंग होती है, जिसमें वह डेवलपमेंट चैलेंजिंग, सॉल्यूशन और इंप्लीमेंटेशन सीखते हैं। इसी ट्रेनिंग का इस्तेमाल कैंडिडेट्स बाद में डीएम या कलेक्टर बनने के बाद करते हैं।

IAS अधिकारी की मासिक सैलरी

UPSC एग्जाम क्लियर कर IAS अधिकारी बनने वाले कैंडिडेट्स को काफी अच्छी सैलरी मिलती है। 7वें वेतन आयोग के मुताबिक, IAS ऑफिसर की बेसिक सैलरी 56,100 रुपए होती है। बात सिर्फ सैलरी तक ही सीमित नहीं होती। इसके अलावा किसी भी अधिकारी को ट्रेवल अलाउंस और महंगाई भत्ता भी मिलता है। खैर, सभी चीजों को मिला दिया जाए तो एक IAS अधिकारी की मासिक सैलरी 1 लाख रुपए प्रति माह से ऊपर बैठती है। दूसरी तरफ, यदि कोई भी IAS अधिकारी कैबिनेट सेक्रेटरी के पद तक पहुंच जाता है तो उसकी सैलरी 2 लाख 50 हजार रुपए प्रति माह हो जाती है। यानी IAS बनने के बाद कैबिनेट सेक्रेटरी बनने वाले कैंडिडेट को सबसे ज्यादा सैलरी मिलेगी। 

अन्य कई सुविधाएं भी हैं मिलती

IAS अधिकारियों को मिलने वाले वेतन को विभिन्न श्रेणियों में विभाजित किया गया है। इसमें जूनियन स्केल, सीनियर स्केल, सुपर टाइम स्केल शामिल है। इसके साथ अधिकारियों को अन्य कई सुविधाएं भी मिलती हैं जिसमें रहने के लिए घर, कुक और अन्य स्टाफ मेंबर भी मिलता है।

संवाददाता

JYOTI MEHRA

Police Media News

Leave a comment