Crime

शर्मनाक! ट्रैफिक पुलिसकर्मी पर छेड़खानी का आरोप, युवतियों ने कहा पहले सटकर बैठा, फिर हाथ पकड़ा

शर्मनाक! ट्रैफिक पुलिसकर्मी पर छेड़खानी का आरोप, युवतियों ने कहा पहले सटकर बैठा, फिर हाथ पकड़ा

उत्तर प्रदेश में आए दिन महिला उत्पीड़न के मामले सामने आते रहते है। जिनमें महिलाओं के साथ छेड़छाड़, रेप, आदि जैसे मामले शामिल है। वहीं दूसरी ओर यूपी पुलिस कई अभियानों के तहत यह पहल करती रहती है कि कैसे महिलाओं को चाक-चौबन्द सुरक्षा व्यवस्था मुहैया करवाई जा सके। पर ऐसी खबरें यूपी पुलिस पर कड़े सवाल खड़े कर देती है और पूरे विभाच की अच्छी-खासी फजीहत करवा देती है। और हद तो तब हो जाती है जब खुद खाकीधारी ही इन घटनाओं में शामिल पाया जाए। ऐसा ही एक मामला यूपी के हापुड़-गाजियाबाद नेशनल हाईवे से सामने आया है जहां ऑटो में बैठी 3 युवतियों से छेड़छाड़ का मामला सामने आया है जिसमें छेड़छाड़ का आरोप आरोप स्वंय ट्रैफिक पुलिस के एक सिपाही पर लगा है।

अफसरों ने बैठाई जांच

आपको बता दें कि मामला हापुड़-गाजियाबाद नेशनल हाईवे का है जहां ऑटो में बैठी 3 युवतियों के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। हैरानी की बात यह है कि मामले में छेड़छाड़ का आरोप खुद ट्रैफिक पुलिस के एक सिपाही पर लगा है। युवतियों ने अपने परिजनों को बुलाकर सिपाही को ऑटो से उतार लिया और जमकर हंगामा किया। यूपी-112 की पुलिस मौके पर पहुंची और सिपाही को साथ ले गई। इस मसलें में अफसरों ने जांच बैठा दी है।

DUTY से लौट रही थीं तीनों युवती,

जानकारी के अनुसार, मसूरी थाना क्षेत्र में वेब सिटी स्थित दयाना गांव की तीन युवतियां बिजली उपकरण बनाने वाली एलएन कंपनी में जॉब करती हैं। बुधवार शाम ड्यूटी खत्म करके तीनों युवतियां घर के लिए रवाना हुईं। वह बम्हेटा गेट से ऑटो में वेब सिटी के लिए सवार हुईं। उनके साथ एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी भी बैठ गया। युवतियों का कहना है कि संभवत: ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने शराब पी हुई थी। वह कुछ नशे में दिख रहा था। पहले तो वह एकदम सटकर बैठ गया। इसके बाद उसने एक युवती का हाथ तक पकड़ लिया। युवतियों ने बताया कि थक-हारकर उन्होंने अपने परिजनों को फोन किया और वेब सिटी कट पर ऑटो रुकवाकर पुलिसकर्मी को नीचे उतार लिया इसपर जमकर हंगामा किया।

वीडियो SSP को भेजी गई

यूपी-112 पुलिस हंगामे की सूचना पर मौके पर पहुंची थी। पीड़ित परिजनों ने पुलिस को पूरे मामले की जानकारी दी। ट्रैफिक पुलिसकर्मी पर शराब पीकर छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की। हंगामे को देख यूपी-112 की गाड़ी उक्त पुलिसकर्मी को बैठाकर साथ ले गई। परिजनों ने इस पूरे हंगामे का वीडियो मोबाइल से शूट कर लिया था जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। ट्रैफिक इंस्पेक्टर परमहंस तिवारी ने जानकारी दी कि इस प्रकरण का संज्ञान लिया गया है। जो वीडियो वायरल हुई है, वह SP ट्रैफिक द्वारा SSP को भेज दी गई है। इस प्रकरण में जांच कराई जा रही है। जांच के बाद जो तथ्य सामने आएंगे, उस अनुसार कार्रवाई होगी।

संवाददाता

RITU SINGH

Police Media News

Leave a comment