Khaki Connection

विधानसभा चुनाव 2022 : VARANASI POLICE की रडार पर 485 शातिर अपराधी और हिस्ट्रीशीटर

विधानसभा चुनाव 2022 : VARANASI POLICE की रडार पर 485  शातिर अपराधी और हिस्ट्रीशीटर

उत्तर प्रदेश में शातिर अपराधी लगातार अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देत हुए कानून व्यवस्था को बिगाड़कर पुलिस के सामने चुनौती खड़े करते हैं। लेकिन कहीं ना कहीं बिगड़ती कानून व्यवस्था को फिर से चुस्त दुरूस्त करने के लिए पुलिस भी अपने द्वारा कई बड़े ऑपरेशन के जरिए शातिरों पर नकेल कसती है। ऐसी ही बड़ी कार्रवाई VARANASI POLICE की ओर से दिखी है। जिसमें जिला पुलिस ने जिले के ऐसे 485 हिस्ट्रीशीटर को रडार पर लिया है। जो आगामी विधानसभा चुनाव में भी उपद्रव मचा सकते हैं। इसको लेकर पुलिस सतर्क हो गई है। वहीं दूसरी तरफ चुनाव सेल के कार्यालय में भी हिस्ट्रीशीटरों की कुंडली खंगाली जा रही है। आला अधिकारियों ने जिले के सभी थानाध्यक्षों को शातिर अपराधियों पर अपनी पैनी नजर रखने का निर्देश दिया है। साथ ही अपराधियों की प्रत्येक गतिविधियों पर भी निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए सी-विजिल एप्किलेशन से ग्रामीण और नगरीय इलाकों के संभ्रांत लोगों को जोड़ा जा रहा है। जिससे पुलिस के साथ निर्वाचन कंट्रोल रूम से त्वरित सूचना पहुंच सके।

जिले के 485 हिस्ट्रीशीटर को किया चिह्नित

जहां विधानसभा चुनाव को सकुशल निपटाने के लिए पुलिस प्रशासन पूरी तरह से जुटा हुआ है। तो वहीं दूसरी और पुलिस को शातिर अपराधियों के साथ-साथ शातिर हिस्ट्रीशीटरों से खतरा बरकरार बना हुआ है। क्योंकि अपराधी शांति व्यवस्था भंग कर सकते हैं। जिसको मुकम्मल तरीके से सही करने की पुलिस ने पूरी तैयारी कर ली है। ऐसे में पुलिस ने 485 हिस्ट्रीशीटर को चिह्नित कर लिया है जो जिले में कानून व्यवस्था को बिगाड़ने का खतरा बने हुए हैं। पुलिस ऐसे शातिर अपराधियों की कुंडली खंगालने में जुटी हुई है। तो वहीं जिले के सभी थानाध्यक्षों को उनकी गतिविधियों पर पैनी नजर बनाए रखने का निर्देश दिया गया है। पुलिस ने वांछितों और वारंटियों की गिरफ्तारी को ओर भी ज्यादा तेज कर दिया है। अधिसूचना जारी होने के बाद जिले में लगभग 2 दर्जन से ज्यादा अवांछनीय तत्वों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेजा जा चुका है।

चुनाव सेल से की रडार पर हैं शातिर अपराधी  

चुनाव को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए पुलिस लाइन में चुनाव सेल कार्यालय स्थापित किया गया है। जहां लगभग 2 दर्जन पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। वल्‍नरेबल बूथों व अपराधियों की निगरानी की जा रही है। उनके आपराधिक इतिहास को खंगालने के साथ ही इंटरनेट मीडिया व अन्य माध्यमों से निगरानी की जा रही है।

सी-विजिल एप किया लांच  

निर्वाचन आयोग ने आचार संहिता का पालन कराने के लिए सी-विजिल एप्लिकेशन को लांच किया है। पुलिस कानन व्यवस्था के लिए इसका इस्तेमाल कर रही है। जिससे ग्रामीण और नगरीय क्षेत्रों को जोड़ने का काम किया जा रहा है। जिससे पुलिस तक जल्द से जल्द सभी सूचनाएं पहुंच पाएं। लोग मोबाइल में एप्लिकेशन को डाउनलोड कर सकते हैं। जिसपर आचार संहिता उल्लंघन करने से लेकर कई तरह की अन्य सूचनाएं भी दे सकते हैं। पुलिस ऐसे लोगों की पहचान को पूरी तरह से गोपनीय रखेगी।

एसपी ने दी तमाम जानकारियां

पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से सफलतापूर्व संपन्न कराने के लिए प्रतिबद्ध किया गया है। अपराधियों और शातिर हिस्ट्रीशीटरों पर नजर रखी जा रही है। साथ ही चुनाव में खलल डालने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment