Transfer

UP: अपने सफल कार्यकाल के लिए पहचाने जाने वाले ADG प्रेम प्रकाश को मिला तबादला, रिटायरमेंट से 3 दिन पहले भेजे गए पुलिस मुख्यालय

UP: अपने सफल कार्यकाल के लिए पहचाने जाने वाले ADG प्रेम प्रकाश को मिला तबादला, रिटायरमेंट से 3 दिन पहले भेजे गए पुलिस मुख्यालय

यूपी में ADG प्रेम प्रकाश, आईपीएस प्रेम चंद्र मीणा और फूड सेल में डीआईजी दयानंद मिश्र 31 दिसंबर को रिटायर होने जा रहे हैं. इससे महज कुछ दिन पहले ही यानी कि साल का अंत होते होते यूपी पुलिस विभाग एक बार फिर से तबादला एक्सप्रेस चली है. जिसमे ADG प्रेम प्रकाश को भी तबादला एक्सप्रेस शामिल किया गया है. एडीजी प्रेम प्रकाश अपने सफल कार्यकाल के लिए जाने जाते हैं. उनकी कार्यशैली बाकी अफसरों से काफी अलग है. 

ये बने प्रयागराज के नए एडीजी

जानकारी के मुताबिक, इस महीने के आखिर में यानि की 31 दिसंबर को प्रयागराज जोन के एडीजी प्रेम प्रकाश सेवानिवृत्त हो रहे हैं. इससे ऐसा माना जा रहा था कि यानी निकाय चुनाव से पहले प्रयागराज को नया एडीजी मिलना तय है. अब जब तबादला लिस्ट जारी हो गई है जिसके अंतर्गत अपर पुलिस महानिदेशक प्रयागराज जोन के पद पर तैनात प्रेम प्रकाश को पुलिस महानिदेशक कार्यालय में अपर पुलिस महानिदेशक पद पर भेजा गया है. वहीं अपर पुलिस महानिदेशक कानपुर जोन भानु भास्कर को इसी पद पर प्रयागराज जोन भेजा गया है. 

कौन है आईपीएस प्रम प्रकाश ?

बता दें कि, मूलतः दिल्ली के रहने वाले प्रेम प्रकाश 1993 बैच के IPS अफसर हैं. बीटेक करने के बाद पुलिस मैनेजमेंट में भी MD (मास्टर इन डिप्लोमा) का कोर्स कर चुके हैं. वे आगरा, मुरादाबाद, NCR समेत कई जिलों में कप्तान रह चुके हैं. इसके अलावा प्रेम प्रकाश ने 12 जुलाई 2009 को राजधानी लखनऊ में DIG/SSP का चार्ज संभाला था. कानपुर जोन की जिम्मेदारी संभालते हुए उनके कार्यकाल में मुठभेड़ के बाद 67 अपराधियों को गिरफ्तार किया था. तेजतर्रार और नियमों का सख्ती से पालन कराने वाले ADG प्रेम प्रकाश ने साल 2019 में CAA/NRC के दंगों के दौरान कानपुर में बड़ी जिम्मेदारी निभाई थी. 

लखनऊ में तैनाती के दौरान की थी बड़ी कार्रवाई

इसके साथ ही लखनऊ में प्रेम प्रकाश की कप्तानी के दौरान प्रदेश कांग्रेस की तत्कालीन अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी का घर फूंकने और ठाकुरगंज इलाके में तिहरे हत्याकांड के साथ लाखों की डकैती हुई थी. पुलिस ने डकैत को मुठभेड़ में मार गिराने के साथ अन्य की धरपकड़ की थी.

इसलिए अलग है कार्यशैली

उनकी कार्यशैली इसलिए सबसे अलग है क्योंकि पुलिस की कार्यप्रणाली व अपराधी द्वारा कर रहे अपराधों का जायजा लेने के सादे कपड़ों में निकल जाते है. और थाने के पास पहुंचकर वहां चाय पीते हैं, जिससे की पुलिस की कार्यप्रणाली का पता चल सकें. इतना ही नहीं आईपीएस प्रेम प्रकाश भीड़भाड़ वाले इलाके, बाजार, महिला कॉलेज व अन्य स्थलों पर अकेले पीछे हाथ कर चुपचाप खड़े रहते हैं. जैसे ही कोई गैर कानूनी कार्य करता हुआ मिलता है तो आईपीएस प्रेम प्रकाश पुलिस को बुलवाकर उसे वहीं से दबोच लेते हैं.

लेखक

Madhvi Tanwar

Police Media News

Leave a comment