Khaki Connection

'माल' की तलाश में पुलिस ने किया पर्दाफ़ाश

'माल' की तलाश में पुलिस ने किया पर्दाफ़ाश

पुलिस अपने कारनामों से चर्चा में रहती है, यूपी पुलिस का एक नया चेहरा सामने आया है। माल नहीं पहुंचा तो वायरल सूची के नामों का पुलिस हालचाल लेने लगी। एक के बाद एक कारनामों के सामने होने से PDDU नगर कोतवाली पुलिस चर्चा में है। बता दें की कुछ दिनों पहले वाराणसी में कुछ लोगों ने वसूली के रुपये देने से मना कर दिया था तो बौखलाई पुलिस ने कार्रवाई करनी शुरू कर दी।

पुलिस ने इस तरह किया पर्दाफ़ाश 

पुलिस ने अचानक नगर के गल्लामंडी में जुए के खेल का भंडाफोड़ कर दिया। अब वायरल सूची और जुए के सिंडिकेट को एक साथ जोड़कर देखे जाने लगा है। समय रहते वसूली के खेल पर रोक नहीं लगी तो भविष्य में पुलिस का नाम और ख़राब हो सकती है। IG नागरिक सुरक्षा अभिताभ ठाकुर ने कोतवाली पुलिस की वसूली सूची वायरल की तो पुलिसकर्मियों के बीच भूचाल आ गया। विजिलेंस की टीम की जांच में हर महीने लगभग 50 लाख रुपये की वसूली सूची सही मिली है। हालांकि मामले को दबाने की कोशिश की गई लेकिन जांच में मामला सही आने पर कार्रवाई शुरू है। 

हो रही चर्चा

कोतवाल शिवानंद मिश्र को पहले लाइन हाजिर किया गया फिर प्रशासनिक आधार पर ईओडब्ल्यू लखनऊ स्थानांतरित कर दिया गया। इसके एक महीने बाद पुलिस ने वायरल सूची में शामिल लोगों का हालचाल लेना शुरू कर दिया और माल न मिलने पर ही पुलिस ने जुए का खेल चला रहे कई रसूखदारों का पर्दाफ़ाश कर उनको पकड़ा है। इस मामले में हर तरफ चर्चा का माहोल है।

संवाददाता

SUFIA PARVEEN

Police Media News

Leave a comment