Crime

हैलो..... मैं दारोगा बोल रहा हूं, मुझे ये चाहिए

हैलो..... मैं दारोगा बोल रहा हूं, मुझे ये चाहिए

जब बदन पर वर्दी चढ़ जाती है तो रौब सामने दिखने लगता है। आए दिन खबरों में पढ़ा या सुना जा सकता है कि किस तरह वर्दीधारी की दबंगई सामने आई है। खबर गोरखपुर से है, जहां एक ट्रेनी दारोगा ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के वरिष्ठ चिकित्सक आशुतोष पर फर्जी मेडिकल प्रमाण पत्र बनाने और फोन पर धमकी दी है। मामले पर पुलिस ने प्रशिक्षु पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।  

फर्जी प्रमाण पत्र देने से किया मना  

बता दें मुरादाबाद स्थित प्रशिक्षण संस्थान से ट्रेनिंग कर रहा दारोगा रंजीत कन्नौजिया गुलरिहा क्षेत्र के भैरवा गांव के निवासी है। वह अपने घर छुट्टी पर आया हुआ था। डॉक्टर ने आरोप लगाया है कि 16 नवंबर को प्रशिक्षु दारोगा स्वास्थ्य केंद्र आया और फर्जी मेडिकल बनाने के लिए उनपर दबाव डालने लगा। जब उन्होंने ओपीडी पर्चे पर दर्द की दवा लिखते हुए फर्जी प्रमाण पत्र बनाकर देने से मना कर दिया तो प्रशिक्षु दारोगा गाली देते हुए वहां से चला गया।

तहरीर के आधार पर केस दर्ज 

बता दें कि 24 नवंबर को दारोगा चिकित्सक को फोन कर के धमकाने लगा। दो दिन पहले मामले पर चौकी में शिकायत करने के साथ डॉक्टर ने विभागीय अफसरों को भी सूचना दी थी। दारोगा से जुड़ा होने के कारण चौकी इंचार्ज ने मामला की जानकारी आला अफसरों को सूचना दी। SSP के आदेश पर पुलिस ने आरोपित दारोगा के खिलाफ़ केस दर्ज कर लिया है। इंस्पेक्टर गुलरिहा रवि राय ने कहा तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

संवाददाता

JYOTI MEHRA

Police Media News

Leave a comment