Super Cop

शिव हरि मीणा ने लिया रामपुर एसपी का चार्ज, जानिए कौन है शिव हरी मीणा...

शिव हरि मीणा ने लिया रामपुर एसपी का चार्ज, जानिए कौन है शिव हरी मीणा...



आईपीएस शिव हरि मीणा ने रामपुर जिले की कमान संभाल ली है ।  रामपुर के इस नए कप्तान से पुलिस मीडिया न्यूज़ ने बातचीत की, बातचीत में शिव हरि ने साफ कर दिया कि उनको जनपद में अपराध को लगाम लगाने के साथ-साथ महिला अपराध ना हो इसका भी बेहद ध्यान रखना है । अगर किसी व्यक्ति ने जनपद में अपराध करने की कोशिश की तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी । शिव हरि मीणा ने रामपुर का चार्ज संभालते ही अपनी पुलिस के साथ एक बैठक की. बैठक में उन्होंने अपने अधीनस्थ पुलिस कर्मचारियों को यह साफ कर दिया कि वह किसी भी कीमत पर जनपद के अंदर लापरवाही बर्दाश्त नहीं करेंगे. शिव ने कहा की उन्हें अपराध पर लगाम लगाना अच्छे से आता है। कानून व्यवस्था स्थापित करने में आप लोग हर सख्त कदम उठाने के लिए स्वतंत्र हैं आपका कप्तान आप के साथ खड़ा है । 

पुलिस को दिए निर्देश 


कप्तान मीणा ने कहा कि अगर किसी भी पुलिसकर्मी की उनके खिलाफ जनता द्वारा शिकायत आती है तो उस पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी. अपराधियों की जगह सलाखों के पीछे हैं और कोई भी अपराधी खुलेआम जनपद के अंदर घूमता हुआ नहीं दिखेगा इतना ही नहीं शिव हरि मीणा ने यह भी साफ कर दिया कि पहले वह अपने पुलिस कर्मचारियों के काम को समझेंगे और अगर उनके हिसाब से काम नहीं हुआ तो वो काम करवाना अच्छे तरीके से जानते है । आप मेहनत कर रहे हैं तो उसका रंग भी दिखना चाहिए जनता को लगना चाहिए कि जनपद के पुलिस उनकी दोस्त है । जनता बेहिचक अपनी समस्याओं को लेकर आपके पास आ सके उसके मन में इस तरह का प्यार होना चाहिए. शिव हरि मीणा ने यह भी साफ कर दिया कि एंटी रोमियो स्क्वायड को और मजबूत किया जाएगा. स्कूल की छुट्टी के समय जब छात्राएं बाहर निकलती हैं तो वहां पर एंटी रोमियो स्क्वायड को लगाया जाएगा. जनपद में महिलाओ को इतना विश्वाश होना चाहिए की वो खुलेआम बाहर निकल सकती है. एंटी रोमियो स्क्वायड की टीम द्वारा पकड़े गए मनचलों पर होगी ठोस कार्रवाई

काम बोलता है


गाजियाबाद में SP सिटी रहने के दौरान चेन स्नेचिंग की घटनाएं लगातार होने से पुलिस चिंतित थी जिसको लेकर शिव हरि ने प्लान बनाया उस प्लान के तहत हर चौराहे पर सिविल में पुलिस कर्मचारी तैनात किये गए. जिससे अगले 10 दिनों बाद चेन स्नेचिंग की घटनाओं में कमी आई जिसके उनके कार्य को जनता और आला अधिकारियों ने खूब सराहा । उन्होने फिर एक बार अपनी पुलिस का दिल जीता जब इटावा मे एसपी रहते हुए रास्ते मे अपने बिमार सिपाही को उन्होने अपनी गाडी से सिपाही को  घर भिजवाया औऱ खुद पैदल ही अपना आवास पहुंच गये । जिसके बाद पुलिस महकमे में उनकी जमकर तारीफ हुयी । कभी वह दिवाली पर गरीब बच्चों को दुकाने ले जाकर कपड़े दिलवाते हैं तो कभी सबूत की तलाश में खूद ही गंदे तालाब में उतर जाते हैं । शिवहरी मिणा खुद ज्यादा नही बोलते पर उनका काम खूद बोलता है । जहां से भी एसपी साहब की विदाई होती है वंहा की पुलिस और जनता उन्हे सर आखों पर बिठा कर विदा करती है ।

एसपी साहब को यह पसंद है 


SP रामपुर शिव हरि मीणा के शौक की बात की जाए तो उन्हें जनता के साथ बात करना बहुत पसंद है. यही वजह है कि वह जिस जनपद में कप्तान रहे उन्होंने जमीनी पुलिसिंग की भी शुरुआत की जिसमें के जरिए वह गश्त के दौरान जहां पर 10 से 15 लोग बैठे रहते थे वहां वह रुकते थे उनसे बातचीत करते थे और उनसे जानने की कोशिश करते थे कि हमें जनता के प्रति और क्या नए प्लान लाने चाहिए. इसके साथ-साथ वह अपने आप को इंटरटेनमेंट करने के लिए फिल्म देखना भी जरूरी मानते हैं. उनका कहना है कि जब तक मानसिक तनाव को खत्म करके काम नहीं किया जाएगा तब तक अच्छे से काम नहीं किया जा सकता है.

कौन है शिव हरि मीणा


2010 बैच के आईपीएस शिव हरि मीणा मूल रूप से दौसा राजस्थान के रहने वाले हैं. इन्होंने अपनी शिक्षा दीक्षा भी राजस्थान के कोटा से ही की. शिव हरि मीणा कि ईमानदारी के चर्चे पूरे प्रदेश में है इसलिए शिव हरी मीणा को 24 कैरेट गोल्ड अधिकारी माना जाता है. शिव हरी मीणा तीन भाई हैं शिव हरी मीणा के दूसरे भाई राजस्थान में डिप्टी एसपी हैं तो एक भाई MP जबलपुर में डीएफओ है । आईपीएस की ट्रेनिंग के दौरान शिवहरी जौनपुर,आजमगढ़,अलीगढ़ में एएसपी के तौर पर रहे वहीं गाजियाबाद में एसपी सिटी के तौर पर लम्बी पारी खेली । गाजियाबाद के बाद उन्हे महाराजगंज का एसपी बनाया गया । महाराजगंज के बाद हापुड़ और बस्ती के पुलिस अधीक्षक बने लेकिन जब बस्ती से उनका ट्रांसफर हुआ तो बस्ती की जनता ने खुलकर कहा कि ऐसा अधिकारी बस्ती में ना अब तक आया और ना ही आगे आएगा इतना ही नहीं शिव हरी मीणा का विदाई समारोह की बस्ती में चर्चा का विषय बना रहा । बस्ती के बाद शिव हरि मीणा पुलिस अधीक्षक के तौर पर मऊ, इटावा, रायबरेली और कासगंज रह चुके हैं 

मुख्य संवाददाता

Chandan Rai

Police Media News

Leave a comment