Khaki Connection

चुप्पी तोड़, शोहदों को सबक सिखाएंगी लड़कियां

चुप्पी तोड़, शोहदों को सबक सिखाएंगी लड़कियां

मिशन शक्ति अभियान के तहत महिलाओं और लड़कियों को उनके हक के बारे में जागरूक किया जा रहा है। शाहजहांपुर की पुलिस अब लड़कियों को अपने सामने आने वाली परिस्थिति पर चुप्पी साधने के बजाए चुप्पी तोड़ने की सीख दे रही हैं। सड़क, गली या चौराहें पर केवल शक्ति के बल पर छेड़खानी करने वालों को तुरंत सबक सिखाने के लिए लड़कियों को सशक्त बनाया जाएगा। पुलिस लाइन का ग्राउंड ही उनका ट्रेनिंग स्थल रहेगा। 

हर रोज क्लास लगाने का प्लान 

शक्ति को आत्मरक्षा का हथियार बनाने के तहत यह अनूठी पहल SP डॉ.एस आनंद द्वारा की गई है। जल्द ही अभियान के तहत एक नया प्रोग्राम जोड़कर लड़कियों को हर रोज 2 घंटे की आत्मरक्षा की ट्रेनिंग दी जाएगी । एसपी ने पुलिस लाइन में हर रोज क्लास लगाने का प्लान भी तैयार किया है, ताकि लड़कियां छेड़छाड़ करने वाले को मुंह तोड़ जवाब दे सकें। 

छात्राओं ने भी दी अपनी सहमति

डा.पुनीत मनीषी के नेतृत्व में लड़कियां ने सोमवार को विकास भवन सभागार में मिशन शक्ति कार्यक्रम के दौरान जूडो-कराटे के दांव-पेंच दिखाए थे। जिसके बाद SP डा.एस आनंद प्रभावित होकर पुलिस लाइन में लड़कियों को ट्रेनिंग देने के लिए आमंत्रित किया। जिसपर छात्राओं ने भी अपनी सहमति दे दी। ट्रेनिंग लेकर लड़कियां किसी भी विपदा का मुकाबला करने के लायक बन जाएंगी। स्कूल-कालेज जाते समय लड़कियों का पीछा करने वाले शोहदों को सबक सिखा सकेंगी। साथ ही अपनी और परिवार की रक्षा भी कर सकेंगी।

बालिकाएं बनेंगी सशक्त 

SP एस आनंद ने बताया कि जल्द ही पुलिस लाइन में 2 से 5 बजे तक आत्मरक्षा की ट्र्रेंनग शुरू कराई जाएगी। इसमें प्रशिक्षित छात्राओं को ट्रेनर के रूप में नियुक्त किया जाएगा। वहीं आत्मरक्षा के गुण सीखकर बालिकाएं सशक्त बन सकेंगी।

संवाददाता

JYOTI MEHRA

Police Media News

Leave a comment