Encounter

अपराधियों में हायतौबा! थाने पहुंचकर कुख्यात ने कहा- गोली ना चलाना, सरेंडर करने आया हूं

अपराधियों में हायतौबा! थाने पहुंचकर कुख्यात ने कहा- गोली ना चलाना, सरेंडर करने आया हूं

अपराधियों में हायतौबा! थाने पहुंचकर कुख्यात ने कहा- गोली ना चलाना, सरेंडर करने आया हूं 
अपराध और अपराधियों के खात्मे के लिए यूपी पुलिस का ऑपरेशन ऑल ऑउट के तहत लगातार हो रहे एनकाउंटर से बदमाशों और अपराधियों में हायतौबा मचा हुआ है. यूपी पुलिस के एनकाउंटर में जहां कुछ बदमाश मारे या गिरफ्तार किए जा रहे हैं, वहीं कुछ बदमाश मारे जाने के डर से सरेंडर कर रहे हैं. 

खबर बागपत से है जहां शिवम हत्याकांड के मुख्य आरोपी मोनित ने खुद ही कोतवाली में पहुंचकर सीओ आलोक कुमार के सामने सरेंडर किया है. रोचक ये है कि मोनित सरेंडर करने के लिए पूर्व विधायक स्व. त्रिपाल धामा के बेटे और सांसद के पूर्व प्रतिनिधि अरुण धामा की बोलेरो गाड़ी से कोतवाली पहुंचा. इसके बाद खुद ही तमंचा गाड़ी से निकालकर कोतवाली प्रभारी थमा दिया. 

मारे जाने के डर से किया सरेंडर


आरोपी ने प्रेसवार्ता के दौरान मीडिया से कहा कि एनकाउंटर के डर से उसने सरेंडर किया है.  उसने बावली गांव में नौ नवंबर की शाम शिवम उर्फ फोर्ड पुत्र योगेंद्र कुमार की गोली मारकर हत्या को अंजाम दिया था. मृतक के भाई बिट्टू ने बादल उर्फ कारतूस पुत्र ऋषिपाल तोमर, मोनित उर्फ छोटू पुत्र प्रमोद, अभिषेक पुत्र अनिल निवासी पट्टी मोल्हू बावली और एक अज्ञात को नामजद करते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई थी

मामले में आया नया मोड़ 


वारदात का मुख्य आरोपी मोनित परिजनों के साथ सांसद प्रतिनिधि लिखी गाड़ी में सवार होकर कोतवाली पहुंचा और सीओ आलोक सिंह के सामने सरेंडर कर दिया. उसने कहा कि पुलिस के सामने कहा कि वह मोनित है, जिसकी तलाश पुलिस काफी समय से कर रही है. एकाएक हत्यारोपी के सामने आने से पुलिस अलर्ट मोड पर है.  

मुख्य संवाददाता

HARSH PANDEY

Police Media News

Leave a comment