Smart Policing

महंगे शौक ने बनाया अपराधी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

महंगे शौक ने बनाया अपराधी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

महंगे शौक इंसान को अपराधी बना देते हैं ये आपने अक्सर कई जगह सुना होगा पर इसका एक हालिया नमूना उत्तर प्रदेश के ग़ाज़ियाबाद में देखने को मिला है । जहाँ पुलिस ने ऐसे 5 महंगे शौक रखने वाले लुटेरों की गिरफ़्तारी की है । पुलिस गिरफ्त में आये लुटेरों में से दो काफी पढ़े-लिखे हैं । गाजियाबाद की खोड़ा पुलिस ने आरोपियों के पास से 6 मोबाइल, 3 चाकू, करीब 38 हजार रुपये समेत अन्य सामान बरामद किया है । 

कैसे बनाया गैंग 

गैंग का मास्टरमाइंड अनुराग तिवारी एमबीए तक पढ़ा है और साथ ही एक नामी कार कंपनी में एचआर एग्जिक्युटिव होने के साथ-साथ कंपनी के ऑफिस एडमिन की जिम्मेदारी भी संभालता था। नवंबर 2017 में जॉब छूटने के बाद जब उसे कोई अच्छी जॉब नहीं मिली तो उसे अपने महंगे शौक पूरे करने में दिक्कत होने लगी। इसी दौरान वह मेरठ में डेंटल क्लीनिक चलाने वाले पवन के संपर्क में आया। पवन डीडीएम की पढ़ाई करने के बाद अपना डेंटल क्लीनिक चला रहा था। जिससे उसे भी कोई खास आमदनी नहीं होती थी। ऐसे में दोनों ने अपना गैंग बनाकर लूट और स्नैचिंग करना शुरू कर दिया। 

OTHER VIDEO : 

महंगे शौक ने बनाया अपराधी 

एसपी सिटी श्लोक कुमार ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों के नाम पवन, अनुराग तिवारी, विवेक और प्रशांत हैं। पुलिस के अनुसार पवन और अनुराग इस गैंग के लीडर हैं। पुलिस की पूछताछ में बदमाशों ने बताया कि लूट से मिलने वाले रुपयों से वे शॉपिंग करते थे। इसके बाद जो रुपये बचते थे, उससे पार्टी करते थे। पुलिस के अनुसार, बदमाशों ने 40 से अधिक लूट व स्नैचिंग की वारदात करने की बात कबूली है। बदमाशों ने बताया कि उन्होंने गाजियाबाद में 28 अगस्त, 1 सितंबर और 14 सितंबर को लूट की वारदात को अंजाम दिया था। फ़िलहाल गैंग के अन्य सदस्यों की तलाश जारी है ।

संवाददाता

Lalit Negi

Police Media News

Leave a comment