Encounter

आजमगढ़ एनकाउंटर में धरा गया 75 हजार का इनामी बदमाश

आजमगढ़ एनकाउंटर में धरा गया 75 हजार का इनामी बदमाश

आजमगढ़ में कुछ दिनों पहले एक व्यापारी के मुनीम से 1 लाख 37 हजार की लूट  के मामले में फरार बदमाश को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया है ।  मुखबिर की सूचना के आधार पर पुलिस ने बीते मंगलवार को 75 हजार के इनामी बदमाश बलवंत यादव को घेर लिया।  पुलिस से घिरा पाकर बदमाश बलवंत ने फायरिंग शुरू कर दी। इसके बाद जवाबी फायरिंग में वो घायल हो गया । पुलिस घायल बलवंत को गिरफ्तार कर लिया जबकि उसके दो साथी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गए । इस मुठभेड़ के दौरान एक दरोगा भी गोली लगने से घायल हो गया । घायल बदमाश और दारोगा को तत्काल एक निजी अस्पताल भर्ती कराया गया । बाद में बदमाश बलवंत को वाराणसी रेफर कर दिया गया । 

पुलिस ने कैसे कसा शिकंजा

आजमगढ़ के महाराजगंज थाना पुलिस को जानकारी मिली थी कि 75 हजार का इनामी बदमाश बलवंत यादव शिवपुर तुर्कचार मोड़ के आस-पास देखा गया है । इसके बाद पुलिस नें बदमाश की तलाशी का अभियान चलाया । इस दौरान एक बाइक पर पुलिस को तीन युवक आते दिखे । पुलिस ने उन्हे रोकने का प्रयास किया । तो बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग शुरु कर दी । इसी बीच बदमाशों की गोली दारोगा बसंत सिंह के हाथ में जा लगी  और वह घायल हो गए । इसके बाद पुलिस की टीम ने जवाबी कार्रवाई में फायरिंग शुरु कर दी । जिससे पुलिस की गोली बदमाश बलवंत के पैर में लगी और वह घायल हो गया । जानकारी के मुताबिक इस मुठभेड़ के दौरान घायल बदमाश के दोनों साथी पवन राय और उदय भान फरार हो गए ।   

बलवंत पर पहले से दर्ज हैं कई केस

एसपी नरेंद्र प्रताप के मुताबिक बदमाश बलवंत पर आजमगढ़ , गोरखपुर और संत कबीरनगर पुलिस की ओर से 25-25 हजार का इनाम रखा गया था । उस पर आजमगढ़, गोरखपुर, बस्ती, देवरिया में लूट, हत्या के प्रयास और अन्य कई मामलों में  मुकदमे दर्ज हैं । उस पर महाराजगंज थाना क्षेत्र के मोलनापुर गांव के पास एक ऑटोरिक्शा में बैठे एक व्यापारी के मुनीम से 1.37 लाख की रुपये की लूट का आरोप भी था।  लूटे गए पैसो से बदमाश बलवंत यादव ने कई अवैध असलहे और कारतूस खरीदा था  जबकिर बाकी  के बचे पैसे आपस में बांट लिए थे । बताया जाता है कि बलवंत अपने पिता के हत्यारों की हत्या करने की योजना बना रहा था । साथ ही घटना को अंजाम देने के लिए कई बार अलग-अलग वाहनों से अपने साथियों के साथ गांव पहुंचकर रेकी किया करता था । बीते मंगलवार को यह सभी तय समय के मुताबिक सुबह घटना को अंजाम देना चाहते थे । यह लोग घटना को अंजाम देते उससे पहले ही पुलिस के हत्थे चढ़ गए। 

गतिविधियों पर थी पैनी नजर 

एसपी नरेंद्र के मुताबिक  75 हजार के इनामी बदमाश की काफी समय से खोजबीन चल रही थी ।  मंगलवार की सुबह घटना को अंजाम दिए जाने से पहले ही मुठभेड़ में उसे गिरफ्तार कर लिया गया । पकडा गया बदमाश पुलिस की गोली लगने से घायल हुआ था । जिसे पुलिस ने इलाज के लिए अस्पताल भर्ती करवा दिया है । साथ ही बदमाश के फरार साथियों को पकड़ने के लिए एक टीम का भी गठन किया गया है । एसपी के मुताबिक जल्द ही सभी बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा ।

संवाददाता

Lalit Negi

Police Media News

Leave a comment