Smart Policing

लखनऊ पुलिस के बड़ी कामयाबी, डेढ़ लाख का इनामी बदमाश राका गिरफ्तार

लखनऊ पुलिस के बड़ी कामयाबी, डेढ़ लाख का इनामी बदमाश राका गिरफ्तार

राजधानी लखनऊ में एसएसपी के निर्देशों के द्वारा चलाए जा रहे अभियान के तहत पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है । इस अभियान के तहत क्राइम ब्रांच और सर्विलांस सेल की टीम ने डेढ़ लाख रुपये के इनामी राका उर्फ समीर शेख को गिरफ्तार किया है । पकड़ा गया अभियुक्त प्रतापगढ़ जिले के जायसवाल बंधु से रंगदारी मांगने और सुल्तानपुर जिले में पड़ी बैंक डकैती के बाद से फरार चल रहा था । एसएसपी के मुताबिक गिरफ्तार किए गए अभियुक्त से दो थानों की पुलिस पूछताछ करेगी । पुलिस को इस इनामी की काफी समय से तलाश थी । मुखबिरो द्वारा सूचना पाकर सरोजनीनगर थाना क्षेत्र के ट्रांसपोर्ट नगर मैट्रो स्टेशन के निकट शहीद पथ तिराहा फैजाबाद रोड के पास से अभियुक्त को गिरफ्तार किया है । इस इनामी की गिरफ्तारी को पुलिस की एक बड़ी सफलता मान जा रही है । 


जानिए कैसे आया गिरफ्त में इनामी बदमाश

लखनऊ एसएसपी कलानिधि नैथानी नैथानी ने बताया कि पुलिस अपराधियों को पकड़ने के लिए अभियान चला रही और इसी क्रम में  सरोजनी नगर थाने के पुलिस चेकिंग अभियान चला रही थी । जिसके बाद मुखबिरो ने सूचना दी की हत्या और डकैती की कई घटनाओं को अंजाम देने वाला अपराधी किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में है । सूचना मिलने के बाद पुलिस टीम ने दबिश देकर अपराधी को शहीद पथ तिराहा से गिरफ्तार कर लिया । तलाशी में उसके पास से एक 32 बोर का अवैध तमंचा,5 कारतूस और 100 रुपये नगद बरामद किये हैं  पकड़ा गया 22 वर्षीय अभियुक्त समीर खिन्दूरी थाना कटरा बाजार गोंडा का रहने वाला है । समीर के खिलाफ लखनऊ के गुडंबा में प्रवीण द्विवेदी उर्फ राजा द्विवेदी के साथ  मिलकर एक व्यक्ति पर जानलेवा हमला किया था । जिसका मुकदमा गुडंबा थाना में पंजीकृत है । उसमें भी अभियुक्त फरार चल रहा था । 


गोंडा में सर्राफा व्यपारी से लूटा था सोना-चांदी 

एसएसपी कलानिधि नैथानी के मुताबिक गिरफ्तार अभियुक्त समीर उर्फ राका ने  पूछताछ में बताया है कि उसने वर्ष 2017 में गोंडा के सर्राफा व्यवसाई से सोना चांदी की लूट की थी । जिसका मुकदमा करनैलगंज गोंडा में दर्ज है । जिसमें गिरफ्तारी के बाद यह सभी जमानत पर बाहर आए थे । पूछताछ में समीर ने बताया कि उसने प्रवीण द्विवेदी उर्फ राजा द्विवेदी एवं दो अज्ञात लड़के जो राजा द्विवेदी के दोस्त हैं । उनके साथ मिलकर संजय सिंह एवं शिवेंद्र सिंह छात्र नेता के कहने पर फैजाबाद के ठेकेदार अनंत बहादुर सिंह की गाड़ी में तोड़फोड़ की । उनके ऊपर फैजाबाद में ही गोली चलाई थी ।  इसमें अनंत बहादुर के हाथ में गोली लगी थी । इस मुकदमे में संजय सिंह के साथ कुछ लोग जेल गए । लेकिन यह लोग फरार हो गए । इसके बाद इसके बाद हम लोगों पर 50,000 रुपये का इनाम घोषित हो गया ।


सुल्तानपुर में डाली थी बैंक में डकैती 

बीते 25 जुलाई 2018 की शाम प्रतापगढ़ के कोहड़ौर कस्बे में हार्डवेयर व्यवसाई दो सगे भाइयों जायसवाल बंधुओं की हत्या के मामले में भी यह समीर आरोपी पाया गया है । यह घटना 20 लाख रुपये की रंगदारी ना देने के कारण की गई थी । अभियुक्त ने बताया इसके बाद 11 सितंबर को सुल्तानपुर कस्बे में बड़ौदा ग्रामीण बैंक में उसने कई लोगों के साथ मिलकर करीब 8,50,000 की डकैती की घटना करित की थी । वंही 14 सितंबर को प्रतापगढ़ में बड़ौदा ग्रामीण बैंक जगेश्वर गंज में 6,00,000 की डकैती भी अपने साथियों के साथ मिलकर की थी । 

लेखक

Madhavi Tanwar

Police Media News

Leave a comment