Crime

दरोगा के बेटे ने कि दुष्कर्म की कोशिश, बचाने आई महिला पर फेंका तेजाब

दरोगा के बेटे ने कि दुष्कर्म की कोशिश, बचाने आई महिला पर फेंका तेजाब

यूपी मे दरोगा के बेटे ने दलित महिला के साथ दुष्कर्म की कोशिश की । मामला उस समय का है जब महिला कोल्हू पर पानी पीने के लिए गई । उसी समय दरोगा के बेटे ने इस मौके का फायदा उठाते हुए उसके साथ जोर जबरदस्ती की  ।  महिला ने शोर मचाना शुरु किया । शोर की आवाज सुनकर महिला के बच्चे पहुंचे तो कोल्हू मालिक ने उन्हें धारदार हथियार से घायल कर दिया । दो अन्य दलित महिलाएं उसके बचाव  में पहंचीं तो आरोपी ने उन पर तेजाब डाल दिया, जिससे दोनों झुलस गई । पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर घायलों को मेडिकल के लिए भेजा है ।    

क्या है पूरा मामला 

जानकारी के मुताबिक मामला नवाबगंज क्षेत्र के एक गांव का है  गांव में रहने वाली दलित महिला बच्चों के साथ जंगल में लकड़ी बीनने गई थी । दोपहर के आस-पास महिला को प्यास लगी महिला ने बच्चों को खेत में छोड़ा और दीपक के कोल्हू पर पानी पीने चली गई । महिला का आरोप है कि कोल्हू के मालिक दीपक ने उसे पकड़ लिया और उसके कपड़े फाड़कर दुष्कर्म की कोशिश करने लगा । महिला के शोर मचाने पर दोनों बच्चे दौड़कर पहुंचे तो दीपक ने धारदार हथियार से उन्हें जख्मी कर दिया । शोर मचने पर लकड़ी बीन रही महिलाएं वहां पहुंची जिसके बाद दीपक ने उनपर तैजाब डाल दिया । इससे दोनों गंभीर रुप से घायल हो गई । पीडित महिलाओं ने थाने पहुंचकर थाने में आरोपी के खिलाफ तहरीर दी तो पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया । पुलिस ने मौके पर जाकर जांच कार्रवाई शुरु की ।

दरोगा का बेटा पहले भी गया है जेल

वहीं दीपक के पिता ओमप्रकाश पुलिस में सब इंस्पेक्टर हैं जिनकी तैनाती संभल जिले में हैं । बताया जाता है कि चार साल पहले दीपक ने किसी व्यक्ति पर ट्रैक्टर चढ़ा दिया था । जिससे उस व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई थी । पुलिस ने उसे इस मामले में जेल भेजा था । जिसके बाद वह जेल से बाहर छुट कर आया गया था ।  इस मामले में  एक महिला से दुष्कर्म की कोशिश की गई है साथ ही दो अन्य महिला पर तेजाब डाला गया है । जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है । 

लेखक

Madhavi Tanwar

Police Media News

Leave a comment