Khaki Connection

आबकारी विभाग की टीम पर हमला कर महिलाओं ने छुड़ाए शराब माफिया

आबकारी विभाग की टीम पर हमला कर महिलाओं ने छुड़ाए शराब माफिया

उत्तर प्रदेश में इन दिनों जहरीली शराब के कारणों से हो रही लगातार मौत की वजह से पुलिस प्रशासन भी हरकत में आ चूका है जिसका उदाहरण यह है की बीते दो दिनों में प्रदेश पुलिस ने सैकड़ो अवैध शराब भट्टिया को नष्ट कर सैकड़ो तस्करो को जेल के अंदर पहुंचाया है वहीँ जब अवैध शराब के खिलाफ चल रहे इस सर्च ऑपरेशन के दौरान जब आबकारी टीम ने मेरठ में अवैध शराब की सूचना मिलने पर छापा मारा तो स्थानीय लोगों ने ही आबकारी टीम पर पथराव कर दिया। मेरठ के गांव  खेड़ी में मनिहार में छापा मारने गई टीम ने शराब माफिया को अवैध शराब के साथ अपने कब्जे में कर लिया था। उसी दौरान टीम पर महिलाओं ने हमला बोल दिया। वहीं टीम इस अप्रत्याशित हमले को देख अपनी कार वहीं छोड़ भाग खड़ी हुई। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शराब माफिया की मां को गिरफ्तार कर लिया है। 

जानिए क्या है पूरा मामला 

जानकारी के मुताबिक मामला मेरठ जिले के मवाना क्षेत्र के गांव खेड़ी का है। जहां आबकारी विभाग का प्रवर्तन दल सोमवार शाम अवैध शराब की सूचना पर आबकारी निरीक्षक भवानी प्रताप सिंह के नेतृत्व में खेड़ी मनिहार गांव के जीतू के घर पर छापा मारने पहुंचा था। बताया जा रहा है कि छापे के दौरान प्रर्वतन दल ने मौके से अवैध शराब बरामद करते हुए जीतू, उसके भाई छोटू और नितिन को अपनी हिरासत में लेकर अपने वाहन में बैठा लिया था। उसी समय वहां मौजूद महिलाओं ने आबकारी विभाग के वाहन को घेरकर पथराव शुरू कर दिया। अचानक हुए हमले से टीम के सदस्य अपना वाहन वहीं छोड़कर भाग निकले। भागकर गांव से बाहर पहुंचे टीम के सदस्यों ने पुलिस को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रवर्तन दल के सभी सदस्यों को सुरक्षित बाहर निकाला लेकिन तब तक शराब माफिया बरामद अवैध शराब का बड़ा हिस्सा लेकर वहां से फरार हो चुके थे। थाना मवाना के एसएसआई पंकज शर्मा ने बताया कि मौके से जीतू की मां कुंतेश को गिरफ्तार कर लिया गया है। शेष आरोपी मौके से फरार हैं। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। साथ ही एसएसआई ने बताया कि आबकारी विभाग ने थाने पर छापे की सूचना नहीं दी थी। 

संवाददाता

Ankit Tailor

Police Media News

Leave a comment