Smart Policing

जब प्रेमी जोड़ी के लिए खुदा बन गई पुलिस

जब प्रेमी जोड़ी के लिए खुदा बन गई पुलिस

उत्तर प्रदेश में आमतौर पर पुलिस अपराधियों की धरपकड़ करती हुई दिखाई देती है। लेकिन प्रदेश पुलिस का एक ऐसा चेहरा भी सामने आया है जिसमें प्रेमी जोड़े के लिए खाकी किसी भगवान से कम नहीं। जी हां रामपुर जिले से एक ऐसा मामला सामने आया है जहां पर एक युवती के परिजनों ने उसकी शादी कहीं ओर तय कर दी थी। लेकिन युवती अपने प्रेमी से ही शादी करना चाहती थी जिसके लिए वह भागकर अपने प्रेमी के घर आई। जहां पर युवक के परिवार वालों ने युवती के परिजनों को बुलाया। इस दौरान दोनों परिवारों के बीच जमकर हंगमा हुआ। जिसके बाद पुलिस मामले की सूचना मिलते ही मौके पर पुहंची। जहां पुलिस को प्रेमी जोड़े ने साथ रहने की बात कही। इसके बाद पुलिस ने गांव के पंचो के साथ दोनों के परिजनों को उनके रिश्ते के लिए राजी कर लिया। पुलिस ने थाने में मौजूद मंदिर में दोनों के सात फेरे कराकर शादी के बंधन में बांधा। जहां से दोनों नें थाने पर मौजूद पुलिसकर्मियों का आशिर्वाद लिया और अपने घर चले गए। 

जानिए क्या है पूरा मामला 

जानकारी के मुताबिक मामला रामपुर जिले के मिलक थाना क्षेत्र का है। जहां मिलक निवासी युवती और मीरगंज निवासी युवक रवि एक दूसरे को प्यार करते थे। दोनों ही इस प्यार को शादी का नाम भी देना चाह रहे थे। लेकिन युवती के परिजनों ने उनकी शादी कहीं और तय कर दी थी। बता दें कि 18 मार्च को युवती की शादी होनी थी। लेकिन युवती इससे खुश नहीं थी। वह अपने प्रेमी से ही शादी करना चाहती थी। जिसके लिए वह अपनी शादी होने से पहले ही घर से भागकर अपने प्रेमी रवि के घर पर जा पहुंची। जहां युवक के परिजनों ने युवती को देख कर हंगामा शुरु कर दिया। इस दौरान युवक के परिजनों ने युवती के परिजनों को भी बुलाया। जहां पर दोनों के परिजनों के बीच जमकर हंगामा हुआ। इस बीच युवती अपने प्रेमी रवि से शादी की बात पर अड़ी रही। दोनों परिवारों के बीच हुए विवाद की सूचना पुलिस को जा मिली। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने पंचायत कराकर दोनों पक्षों को प्रेमी जोड़े की शादी के लिए राजी कराया। इस दौरान किसी ने इस सब प्रकरण का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। 

थाने में हुए प्रेमी जोड़े के सात फेरे 

मामले में लड़की के घरवालों ने थाने पहुंचकर लड़के पर आरोप लगाया है कि वह जबरन उनकी लड़की को बहलाकर अपने साथ ले गया है। लेकिन मामला पुलिस के संज्ञान में पहले से ही था। जिसके बाद पुलिस ने दोनों के परिजनों को समझाया। जिसके बाद दोनों परिजनों की रजामंदी के बाद पुलिस ने थाने में मौजूद मंदिर में दोनों के सात फेरे कराकर शादी के बंधन में बांध दिया। दोनों ने शादी के बाद थाने में मौजूद तमाम पुलिसकर्मियों का आशीर्वाद लिया जहां से वह अपने घर चले गए।   

लेखक

Madhavi Tanwar

Police Media News

Leave a comment