Others

जब सीएम योगी बोले- अब तो बलिया का नाम लेने में भी डर लग रहा है

जब सीएम योगी बोले- अब तो बलिया का नाम लेने में भी डर लग रहा है

मिशन शक्ति और महिला सुरक्षा सप्ताह के तहत सीएम योगी आदित्यनाथ ने महिला पंचायत प्रतिनिधियों से वर्चुअल संवाद किया। इस दौरान जब एक महिला प्रधान से सीएम की बात हुई तो उन्होंने इशारों में कुछ ऐसा कहा, जिसको विपक्ष ने मुद्दा बना दिया है। दरअसल बलिया में गोलीकांड को लेकर विपक्ष लगातार योगी सरकार और पुलिस प्रशासन को घेर रहा है। इस मामले में फरार आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह की रविवार को लखनऊ से गिरफ्तारी हुई थी। अब वह न्यायिक हिरासत में है।

महिला प्रधान से बातचीत में बोले सीएम

महिला सुरक्षा सप्ताह के तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को प्रदेश की चार महिला ग्राम प्रधानों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुखाबित हुए। सीएम योगी ने बलिया की रतसर कला की ग्राम प्रधान स्मृति सिंह से भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की। इस क्रम में उन्होंने कहा कि अब बलिया का नाम लेने में भी डर लग रहा है। माना जा रहा है कि सीएम का इशारा दुर्जनपुर कांड की तरफ था।

'अब तो बलिया का नाम लेने में भी डर लगता है'

परिचय के क्रम में जब स्मृति ने सीएम को नवरात्र की बधाई दी तो सीएम ने भी स्मृति और बलिया वासियों को बधाई दी। इसके साथ ही उन्होंने हल्के-फुल्के अंदाज में चुटकी लेते हुए कहा कि अब तो बलिया का नाम लेने में भी डर लगता है। मुख्यमंत्री का बलिया पर बयान सुनकर कॉन्फ्रेंस हॉल में मौजूद अधिकारी ठहाके लगाने से अपने को नहीं रोक सके।

संवाद में 1 लाख से ज्यादा जनप्रतिनिधि

रतसर कला की ग्राम प्रधान स्मृति सिंह ने अपने सुझावों को मुख्यमंत्री से साझा किया। उन्होंने मुख्यमंत्री से यह मांग रखी कि सभी सरकारी हेल्पलाइन नम्बरों पर भोजपुरी और बुंदेलखण्डी भाषा का ऑप्शन जोड़ा जाए। इससे ग्रामीण क्षेत्र की कम पढ़ी-लिखी महिलाओं को, जो हिन्दी नहीं बोल सकती हैं, मदद मिलेगी।

लेखक

Sandhya mishra

Police Media News

Leave a comment