Others

यूपी पुलिस ने मुख्यमंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी मामले में की कार्यवाई

यूपी पुलिस ने मुख्यमंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी मामले में की कार्यवाई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के दो अलग-अलग मामलों में प्रदेश पुलिस ने एक न्यूज चैनल की एमडी समेत तीन पत्रकारों को गिरफ्तार किया है। हजरतगंज इंस्पेक्टर राधारमण सिंह ने बताया है कि ट्विटर पर मुख्यमंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक कमेंट किया गया था।

टि्वटर हैंडल से ट्वीट करना पड़ा भारी


मुख्यमंत्री कार्यालय से शुक्रवार देर रात एसएसपी कलानिधि नैथानी को मुकदमा दर्ज करके कार्रवाई के निर्देश दिए गए थे। जिस टि्वटर हैंडल से यह ट्वीट किया गया था, वह प्रशांत कनौजिया का था। इस पर हजरतगंज कोतवाली में तैनात उपनिरीक्षक विकास कुमार की तहरीर पर प्रशांत कनौजिया के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। सीओ अभय कुमार मिश्रा ने बताया कि जांच अधिकारी इंस्पेक्टर बृजेन्द्र कुमार मिश्रा के नेतृत्व में दिल्ली गई टीम ने प्रशांत कनौजिया को गिरफ्तार कर लिया। लखनऊ पुलिस का कहना है कि दिल्ली के मंडावली में रहने वाले मूलत: प्रतापगढ़ निवासी प्रशांत ने खुद को एक न्यूज पोर्टल का पत्रकार बताया।

इश्क छुपता नहीं छुपाने से योगी जी


लखनऊ पुलिस पर आरोप लगते हुए प्रशांत की पत्नी जागीशा अरोड़ा ने बतया कि उनके घर में दो लोग दिन में सादी वर्दी में आए और खुद को लखनऊ पुलिस का अधिकारी बताया। प्रशांत की पत्नी का आरोप है कि बिना गिरफ्तारी वारंट दिखाए ही उनके पति को गिरफ्तार करके लखनऊ ले जाया गया। बता दें कि प्रशांत ने 6 जून को अपने ट्विटर हैंडल पर ‘इश्क छुपता नहीं छुपाने से योगी जी’ पोस्ट की थी। साथ ही एक वीडियो अपलोड किया था, जिसमें एक युवती मुख्यमंत्री कार्यालय के बाहर खड़ी होकर खुद की योगी आदित्यनाथ की प्रेमिका बता रही थी।प्रशांत इससे पहले भी योगी आदित्यनाथ पर उनके जन्मदिन पर टिप्पणी कर चुका है।

न्यूज चैनल नेशन लाइव की एमडी समेत 2 गिफ्तार


प्रदेश की नोएडा पुलिस ने सेक्टर-65 स्थित न्यूज चैनल नेशन लाइव की एमडी इशिका सिंह समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि 6 जून को चैनल के कार्यालय में ‘कानपुर की एक महिला का सीएम योगी आदित्यनाथ से संबंध हैं कि नहीं?’विषय पर एक लाइव डिबेट का आयोजन किया गया था। मुख्यमंत्री के खिलाफ बगैर पड़ताल किए गलत खबर चलाने के मामले में कोतवाली फेस-3 में मुकदमा पंजीकृत किया गया था।

लेखक

Anshul bajpai

Police Media News

Leave a comment