Encounter

पंजाब से अगवा किए गए व्यापारी को यूपी पुलिस ने मुठभेड़ कर सकुशल छुड़वाया

पंजाब से अगवा किए गए व्यापारी को यूपी पुलिस ने मुठभेड़ कर सकुशल छुड़वाया

पटियाला के कन्नौर से अगवा किए गए व्यापारी को सहारनपुर और पंजाब पुलिस ने घंटो चले संयुक्त ऑपरेशन के बाद सकुशल बरामद कर लिया। जानकारी के मुताबिक इस दौरान पुलिस और किडनैपर्स के बीच काफी देर तक फायरिंग हुई जिसमें एक बदमाश गोली लगने से घायल हुआ है। वहीं एक पुलिसकर्मी को भी गोली लगी लेकिन बुलेट प्रुफ जैकेट पहने होने की वजह से उसकी जान बच गई। 

जानिए पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक पंजाब के व्यापारी संपूर्ण सिंह को पटियाला के कन्नौर से अगवा कर लिया गया था और उनके एवज में अपहरणकर्ताओं ने एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी  थे। किडनैपर्स ने ने पिछले कई दिनों से व्यापारी को तीतरा थाना क्षेत्र में एक गन्ने के खेत में छिपाकर रखा हुआ था। एसएसपी दिनेश कुमार ने बताया कि एक इनपुट के बाद पंजाब पुलिस और स्थानीय पुलिस टीम ने संयुक्त ऑपरेशन कर अगवा किए गए व्यापारी को सकुशल बरामद करने में सफलता हांसिल की है।
 

कलसी गांव के जंगलों में रखा गया था अपहृत संपूर्ण सिंह को

वहीं बताया जा रहा है कि पंजाब पुलिस संपूर्ण सिंह के अपहरण करने के बाद से ही इस वारदात का खुलासा करने में लगी हुई थी। इस दौरान पंजाब पुलिस टीम ने सुभाष नाम के एक अपहरणकर्ता को गिरफ्तार कर लिया था। उसने खुलासा किया था, कि व्यापारी संपूर्ण सिंह के अपहरण कांड में उसके साथी इरशाद, बालिस्टर और नदीम भी शामिल हैं।इसके बाद पता चला कि तीनो सहारनपुर में हैं । ये जानकारी मिलते ही पंजाब और सहारनपुर पुलिस टीम ने एक संयुक्त ऑपरेशन के तहत इरशाद व नदीम को सहारनपुर रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया। जब इनसे पूछताछ की गई तो पता चला कि संपूर्ण सिंह को इनके अन्य साथियों की मदद से तीतरा थाना क्षेत्र के गांव कलसी के जंगलों में रखा गया है। इन बदमाशों ने ये भी बताया कि जंगल में अगवा किए गए संपूर्ण कि निगरानी मुस्तकीम व बालिस्टर कर रहे हैं। 

मुठभेड़ में एक बदमाश हुआ घायल

इस सूचना पर पुलिस गन्ने के उस खेत में पहुंची जहां संपूर्ण सिंह को रखा गया था। यहां बदमाशों और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई जिसमे बालिस्टर पैर में गोली लगने से घायल हो गया और पुलिस ने उसे मौके से ही गिरफ्तार कर लिया। वहीं इस मुठभेड़ के दौरान एक गोली पुलिसकर्मी सुनील कुमार को भी लगी लेकिन बुलेट प्रुफ जैकेट ने उनकी जान बचा ली। लेकिन इस बीच बालिस्टर का दूसरा साथी मुस्तकीम भागने में कामयाब रहा। जिसके बाद पुलिस ने व्यापारी संपूर्ण सिंह को  सकुशल बरामद कर लिया। पूछताछ में पता चला कि अपहरणकर्ता संपूर्ण सिंह को नशे के इंजेक्शन लगाकर रखते थे। 

लेखक

Anshul bajpai

Police Media News

Leave a comment