Others

भाजपा नेता की धमकी...हम विपक्ष में होते तो थाने पलट देते, हमने दौड़ाया है इंस्पेक्टरों को

भाजपा नेता की धमकी...हम विपक्ष में होते तो थाने पलट देते, हमने दौड़ाया है इंस्पेक्टरों को

आगरा में एक खादीवाले की खाकी की शान के खिलाफ दी गई धमकी भरा वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। जानकारी के मुताबिक ये धमकी भरा वायरल वीडिया भाजपा महानगर अध्यक्ष विजय शिवहरे का है । इस वीडियो में भाजपा नेता कहते सुने जा सकते हैं कि हम विपक्ष में होते तो थाने पलट देते, और पलटे हैं हमने थाने, दौड़ाया है इंस्पेक्टरों को...। बताया जा रहा है कि तीन दिन पहले शाहगंज थाना में पुलिस अफसरों को उन्होंने इस अंदाज में धमकाया। पुलिसवालों में खादी का खौफ तो देखिए कि कोई अधिकारी नेता की धमकी पर एक शब्द तक नहीं बोला। सब चुपचाप सुनते रहे।

OTHER VIDEO :


जानिए पूरा मामला

एक बार फिर खादीवाले ने साबित कर दिया कि उनके आगे खाकी की कोई बिसात नहीं। जी हां आपको बता दें कि आगरा में भाजपा नेता का पुलिसवालों को दी जा रही धमकी का वीडियो वायरल हुआ है जिसमें वे पुलिसवालो को जमकर लताड़ रहे हैं और खाकीवाले गर्दन झुकाए खादी की हेकड़ी और धमकी सुन रहे हैं। गौर करने वाली बात है कि वीडियो में साफ-साफ सुना जा सकता है कि भाजपा नेता विजय शिवहरे कह रहे हैं, आपके दो तीन थाने ऐसे हैं, जिन्होंने बवाल बहुत कराया है। मानसिकता खराब है... आपको निर्णय लेना है, अभी निर्णय लेना है, यस या नो... आपको जो स्टेप उठाना है, उठाइए, जो हमें उठाना है, हम उठाएंगे । भाजपा के एक भी कार्यकर्ता ने अगर ठान लिया तो आपको पता नहीं, क्या होगा। भाजपा नेता इतने पर ही नहीं थमें वे आगे कहते हैं कि हम सत्ता में हैं, इसलिए हम बेकार हैं, विपक्ष में होते तो थाने पलट देते, और पलटे हैं हमने थाने, हमने इंस्पेक्टरों को दौड़ाया है, हमने दौड़ाया है हमने।  इसके आगे भाजपा महानगर बोलते हैं कि आप क्या कमजोर समझ रहे हैं? सरकार हमारी है, इसलिए कार्यकर्ता को पीटेंगे आप ? एफआईआर कराओ, कोई तरीका नहीं है ये, गिरफ्तारी होगी, तभी हटेंगे हम।

OTHER VIDEO :


इस लिए धमका रहे थे नेता जी

दरअसल शाहगंज थाना के दरोगा कृष्ण कुमार के खिलाफ आरोप लगा था कि एक दिसंबर को उन्होंने साकेत कालोनी चौराहे पर भाजपा नेता हेमेंद्र तिवारी की पिटाई की। उसी दिन भाजपा नेता शाहगंज थाना पहुंचे थे और  दरोगा की गिरफ्तारी की मांग उठाई थी, अधिकारी भी आ गए थे। बताया जा रहा है कि हंगामे के दौरान ही विजय शिवहरे ने पुलिस अधिकारियों को इस अंदाज में धमकी दी। इसके अगले दिन दो दिसंबर को सीओ लोहामंडी चमन सिंह चावड़ा ने दरोगा कृष्ण कुमार के निलंबन की संस्तुति कर रिपोर्ट भेज दी। 

OTHER VIDEO :


जगदीशपुरा में भी हुआ था हंगामा 

आपको बता दें कि इससे दो दिन पहले जगदीशपुरा थाना के दो सिपाहियों पर भाजपा नेता अजय कुलश्रेष्ठ को हवालात में डालने का आरोप लगा था। तब भाजपाइयों ने जगदीशपुरा थाना में हंगामा किया था। बाद में दोनों सिपाही लाइन हाजिर कर दिए गए थे। गौर करने वाली बात है कि प्रदेश में भाजपा की सरकार आने के बाद आगरा में खादी और खाकी के टकराव के ऐसे दस मामले सामने आ चुके हैं ।एक मामले में तत्कालीन एसएसपी डा. प्रीतिंदर सिंह तक का तबादला कर दिया गया था। वहीं भाजपा महानगर अध्यक्ष विजय शिवहरे का कहना है कि बूथ अध्यक्ष का सम्मान सबसे ऊपर हो, यह पुलिस को भी समझना होगा। सरकार हमारी है, हम कानून का सम्मान करते हैं। हमने सिर्फ यह बताया कि विपक्ष में होते तो क्या करते? कुछ दरोगा और इंस्पेक्टरों की मानसिकता खराब है, उनकी सूची बनाकर हाईकमान को भेजी जा रही है।

संवाददाता

Lalit Negi

Police Media News

Leave a comment