Encounter

एसटीएफ ने मुठभेड़ कर 25 हजार के इनामी पवन बागपुर सहित 6 बदमाशों को किया गिरफ्तार

एसटीएफ ने मुठभेड़ कर 25 हजार के इनामी पवन बागपुर सहित 6 बदमाशों को किया गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में एसटीएफ ने मंगलवार को मुठभेड़ के बाद 25 हजार के इनामी पवन बागपुर समेत छह बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन बदमाशों का एक साथी 25 हजार का इनामी मनोज इमलिया पुलिस को चकमा देकर भागने में कामयाब रहा। पुलिस ने आरोपी को तलाश भी किया लेकिन उसका कोई सुराग न लग पाया। वहीं गिरफ्तार बदमाशों के कब्जे से एसटीएफ ने बुलेट प्रूफ स्कॉर्पियो और एक फॉरच्यूनर कार बरामद की है। पुलिस के मुताबिक हत्थे चढ़े ईनामी बदमाश पवन पर हत्या, हत्या के प्रयास, रंगदारी आदि के 18 केस दर्ज हैं। 

OTHER VIDEO :

जानिए पूरा मामला

एसटीएफ सीओ राजकुमार मिश्रा के मुताबिक, मुखबिर से सूचना मिली थी कि मनोज इमलिया साथियों के साथ थाना इकोटेक क्षेत्र में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के इरादे से घूम रहा है। इसके बाद एसटीएफ बिसरख, सूरजपुर, कासना और इकोटेक-3 थाना पुलिस को साथ लेकर बदमाशों की तलाश में जुट गई। टीम ने पुलिस लाइन के पास घेराबंदी की तो बुलेट प्रूफ स्कॉर्पियो व फॉरच्यूनर में सवार बदमाशों ने पुलिस टीम पर गोली चला दी। जिसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। इस दौरान पुलिस की गोली स्कॉर्पियो पर लगी, लेकिन बुलेट प्रूफ गाडी होने की वजह से बदमाश बच गए। इसी बीच मनोज इमलिया पुलिस टीम को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गया।

OTHER VIDEO :

6 बदमाश किए गए गिरफ्तार

लेकिन पुलिस टीम ने 25 हजार के ईनामी पवन के अलावा जीतू उर्फ जितेंद्र निवासी इमलिया, जगत सिंह नागर निवासी दादूपुर, विनोद सिंह निवासी रिठौरी जनपद भरतपुर, चंदन शर्मा ओम एंक्लेव फरीदाबाद व कमल निवासी ब्रह्मपुरी दनकौर को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक पवन और मनोज थाना ग्रेटर नोएडा में हत्या के प्रयास में वांछित हैं। वहीं, जगत सिंह ने खुद को दिल्ली पुलिस की स्वाट टीम का एएसआई बताया है, लेकिन इसके पास से एसटीएफ को कोई आईडी बरामद नहीं हुआ है। एसटीएफ ने इस संबंध में दिल्ली पुलिस से जानकारी जुटाने के लिए मेल किया है।

OTHER VIDEO :

सभी आरोपियों से एसटीएफ कर रही है पूछताछ 

फिलहाल एसटीएफ सभी आरोपियों से पूछताछ कर रही है और कई घटनाओं से पर्दा उठाने का प्रयास कर रही हैं।वहीं आरोपियों से बुलेट प्रूफ गाड़ी के बारे में भी पूछताछ की जा रही है। इधर चर्चा हो रही है कि फरार हुए बदमाश मनोज को एसटीएफ की टीम ने पकड़ लिया था, लेकिन वह पुलिस हिरासत से फरार हो भाग गया। हालांकि, एसटीएफ अधिकारी उसके हिरासत से भागने से इंकार कर रहे हैं।

संवाददाता

Ankit Tailor

Police Media News

Leave a comment