Crime

रेप पीड़िता के पिता को गवाही से पहले सरेराह जिंदा जलाने की कोशिश

रेप पीड़िता के पिता को गवाही से पहले सरेराह जिंदा जलाने की कोशिश

यूपी के मेरठ में दुष्कर्म पीड़िता के पिता पर आरोपियों ने सरेआम पेट्रोल डालकर आग लगा दी और भाग गए। लोगों ने रेत-मिट्टी डालकर किसी तरह आग बुझाई, लेकिन तब तक पीड़ित काफी झुलस चुका था। पुलिस ने घायल को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया है। दुष्कर्म के आरोपी और उसके भाई व एक रिश्तेदार के खिलाफ भावनपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज की गई है।

पीड़ित पर समझौते का दबाव

अप्रैल 2018 में परिवार की 16 वर्षीय किशोरी के साथ एक युवक ने जबरन घर में घुसकर दुष्कर्म किया था। तब किशोरी पॉलिटेक्निक कर रही थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इस समय आरोपी जमानत पर बाहर है। पीड़ित पक्ष का आरोप है कि युवक और उसके परिजन लगातार समझौते के लिए दबाव बना रहे हैं। जब छात्रा का पिता बाइक से अपने गांव से जा रहा था। आरोप है कि दतावली मार्ग पर आरोपी आकाश और दो अन्य लोगों ने घेराबंदी कर उसे रोक लिया और बाइक गिराकर बुरी तरह पीटा।

पिता को पेट्रोल से जलाने की कोशिश

इसके बाद आरोपियों ने सरेआम सबके सामने पिता पर पेट्रोल डाल दिया और आग लगाकर भाग गए। आसपास के लोगों ने किसी तरह मिट्टी और रेत डालकर आग बुझाई। तब तक पीड़ित का कंधा और हाथ बुरी तरह झुलस चुका था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल को मेडिकल कालेज में भर्ती कराया। भावनपुर एसओ विनय कुमार का कहना है कि पीड़ित पक्ष ने दुष्कर्म के आरोपी आकाश, उसके भाई रोहित और बहनोई के खिलाफ तहरीर दी है ।

दुष्कर्म मामले में गवाह पिता

अस्पताल में पीड़ित ने बताया कि बेटी से दुष्कर्म के मामले में वह गवाह है। आगामी 24 अप्रैल को गवाही होनी है। इसी कारण आरोपी आकाश, उसके छोटे भाई रोहित और बहनोई जगमोहन ने उसकी हत्या करने का प्रयास किया। एसओ भावनपुर विनय कुमार ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

लेखक

Vishal Vishwakarma

Police Media News

Leave a comment