Khaki Connection

पुलिस हिरासत में युवक की मौत से मचा हड़कंप

पुलिस हिरासत में युवक की मौत से मचा हड़कंप

उत्तर प्रदेश में बीते कुछ समय पहले भी पुलिस हिरासत में मौत के कई मामले सामने आए थे। जिनसे पुलिस की कार्यशैली पर कई बड़े सवाल खड़े हुए। इसके बाद मामला बहराइच से सामने आया है। जहां रविवार की देर रात अवैध शराब की बिक्री के संदेह पर पुलिस गांव के एक युवक को उसके घर से उठाकर ले आई। देर रात में पुलिस हिरासत में युवक की मौत हो गई। इस मामले में मृतक की पत्नी ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस ने उसके पति को पीटकर मार डाला। जब मामले की पुलिस अधिकारियों को लगी तो एसपी ने मामले की जांच कार्रवाई के दौरान दोषी पाए जाने वाले पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है।   

OTHER VIDEO :

क्या है पूरा मामला 

जानकारी के मुताबिक मामला बहराइच जिले के मोतीपुर थाना क्षेत्र का है। जहां पर परवानीगौढ़ी गांव निवासी रामखेलावन और जवाहर को पुलिस देर रात अवैध शराब के कारोबार की आशंका होने पर थाने ले गई। मिहींपुरवा थाने में देर रात रामखेलावन ने पुलिस हिरासत में दम तोड़ दिया। थाने में मौजूद पुलिस ने रामखेलावन को जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवा दिया। लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस दौरान जब युवक की मौत की सूचना उसके गांव में पता लगी तो ग्रामिणों में युवक की मौत की सूचना से आक्रोश उठ गया। जिसके बाद ग्रामीण भी परिवार के लोगों के साथ जिला अस्पताल जा पहुंचे। सभी ने इस दौरान मौके पर हंगामा शुरु कर दिया। पुलिस ने गांव में तनाव की स्थिती ना बने इसके लिए भारी पुलिस बल तैनात कर दी।    

OTHER VIDEO :

मृतक की बेटी की मार्च में शादी

मृतक रामखेलावन की बेटी सरिता के मुताबिक उसके पिता को टीबी की बिमारी थी। जिस समय पुलिस उसके पिता को ले गई उस दौरान वह दवाई खाकर लेटे थे। परिवार ने इसका विरोध भी किया। बताया जा रहा है कि मृतक की बेटी की शादी मार्च में थी। लेकिन जिस घर में शादी की शहनाई गुंजने वाली वहां पर अब मातम का माहौल पसरा है।    

OTHER VIDEO :

मामले में दोषी पुलिसकर्मियों को किया निलंबित
तनाव की स्थिती को देखते हुए दोनों थानों की फोर्स को इलाके में तैनात कर दिया गया है। एसपी नें इस मामले की जांच एएसपी ग्रामीण रविंद्र सिंह को सौंपी है। एसपी ने जांच में दोषी पाए जाने पर मिहींपुरवा चौकी इंचार्ज, एक हेड कांस्टेबल और एक सिपाही को सख्त कार्रवाई कर निलंबित कर दिया है।  

लेखक

Madhavi Tanwar

Police Media News

Leave a comment