Crime

चलती कार में पिस्टल लेकर TIK TOK वीडियो बनाते समय चली गोली, युवक की मौत

चलती कार में पिस्टल लेकर TIK TOK वीडियो बनाते समय चली गोली, युवक की मौत

टिकटॉक पर वीडियो अपलोड करने के शौकिन ये खबर जरूर पढे.... 
आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली  के कनाट प्लेस में चलती कार में पिस्टल लेकर टिक-टॉक वीडियो बनाने के दौरान एक दोस्त के हाथों दूसरे दोस्त की हत्या हो गई। पुलिस ने हत्या के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही पिस्टल भी बरामद कर ली गई है। पुलिस के मुताबिक युवक इंडिया गेट गए घूमने गए थे और घर  लौटते समय वे टिकटॉक वीडियो बना रहे थे, उसी समय कार का संतुलन बिगड़ा और गोली चल गई जिससे एक युवक की मौत हो गई।


OTHER VIDEO:

जानिए पूरा मामला

पुलिस के मुताबिक शनिवार की रात तीन युवक घूमने के लिए इंडिया गेट पहुंचे थे। यहां मौज मस्ती करने के बाद तीनों युवक अपने घर जाफराबाद जाने लगे। रात तक़रीबन 10 बजकर 30 मिनट पर तीनो युवक बराखम्बा रोड के रंजीत सिंह फ्लाईओवर पर पहुंचे। उसी दौरान कार चला रहे 21 साल के सलमान ने टिकटॉक एप पर वीडियो अपलोड करने की बात कही । जिसके बाद साथ वाली सीट पर बैठे 22 वर्षीय सोहेल  ने अपने पास रखी पिस्टल को कार चला रहे सलमान के गाल पर लगाया और पीछे बैठा आमिर वीडियो बनाने की तैयारी में ही था कि तभी फ्लाइओवर को जोड़ने वाले सेगमेंट पर कार का संतुलन गडबड़ाया और सोहेल से ट्रिगर दब गया। ट्रिगर दबते ही गोली सलमान को जा लगी।पुलिस ने बताया कि घटना के बाद दोनों दोस्त घबरा गये और फिर वे दरियागंज में सोहेल के रिश्तेदार के घर गये और खून से सने कपड़े बदले। इसके बाद रिश्तेदार के साथ वे सलमान को पास के एलएनजेपी अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

OTHER VIDEO:

आरोपियों को टिकटॉक वीडियो बनाने का था शौक

पुलिस का कहना है कि आरोपी सोहेल अपने दोस्त से पिस्टल टशन दिखाने के लिए लाया था। वहीं मृतक सलमान के पिता का जिंस का काम है और आमिर के पिता का प्लाईवुड का काम है। पुलिस को पूछताछ में आरोपियों ने बताया की उनको वीडियो बनाने का शौक है..इसलिए ये टिकटॉक पर वीडियो अपलोड करने के लिए बना रहे थे। 

OTHER VIDEO:

पुलिस ने तीन युवकों को किया गिरफ्तार

वहीं पुलिस ने सोहेल के पास से पिस्टल भी बरामद कर ली है और सोहेल के दोस्त शाकिर को भी गिरफ्तार किया है जिस पर  सबूत मिटाने का आरोप है। फिलहाल पुलिस ने आईपीसी की धारा 302, 201 और आर्म्स एक्ट के तहत तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं  पुलिस का कहना है कि जांच की जा रही है कि हत्या इरादतन की गई या गलती से पिस्तौल चल गई थी।

लेखक

Madhavi Tanwar

Police Media News

Leave a comment