Khaki Connection

2014 बैच के आईपीएस अधिकारी मणिलाल पाटीदार पर गंभीर धाराओं में FIR दर्ज, हो सकती है गिरफ्तारी

2014 बैच के आईपीएस अधिकारी मणिलाल पाटीदार पर गंभीर धाराओं में FIR दर्ज, हो सकती है गिरफ्तारी

उत्तर प्रदेश में अपराध और भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति पर काम कर रही योगी सरकार ने महोबा के कप्तान रहे आईपीएस मणिलाल पाटीदार के खिलाफ 307, 120बी जैसी गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज करवाई है। इस संगीन धाराओं की वजह से मणिलाल पाटीदार और अन्य आरोपियों पर अब गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है।

एसपी पर व्यापारी से रिश्वत मांगने का आरोप

सीएम योगी आदित्यनाथ ने महोबा के पुलिस अधीक्षक मणि लाल पाटीदार को निलंबित कर दिया है। सीएम योगी ने लगातार दूसरे दिन राज्य के बड़े पुलिस अधिकारी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। महोबा एसपी पर व्यापारी से रिश्वत मांगने का आरोप लगा है। जानकारी के मुताबिक, कबरई के मोहल्ला जवाहर नगर निवासी इंद्रकांत त्रिपाठी का क्रशर का कारोबार है। इंद्रकांत ने बीते सोमवार को एसपी पर रिश्वत मांगने का आरोप लगाकर सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल किया था। व्यापारी ने वीडियो व पत्र सीएम और डीजीपी को भी भेजा था।वीडियो में व्यापारी ने कबरई पत्थरमंडी ठप होने के चलते पैसे न देने की असमर्थता जताई थी। साथ ही एसओ पर भी गंभीर आरोप लगाए थे। उसने हत्या की आशंका भी जताई थी। इसी बीच मंगलवार को क्रशर कारोबारी इंद्रकांत को अज्ञात लोगों ने गोली मार दी।

जीरो टॉलरेंस नीति के अंतर्गत

सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को एसपी मणिलाल पाटीदार के निलंबन का आदेश जारी करते हुए उन्हें डीजीपी कार्यालय से अटैच कर दिया गया है। इसके अलावा उनके खिलाफ जांच के आदेश भी दिए गए हैं। इस कार्रवाई के बाद लखनऊ के पुलिस उपायुक्त अरुण श्रीवास्तव को महोबा का जिले का नया एसपी बनाया गया है। इससे पहले जीरो टॉलरेंस नीति के अंतर्गत ही मंगलवार को प्रयागराज जिले के एसएसपी अभिषेक दीक्षित को भी योगी सरकार ने भ्रष्टाचार के आरोप में सस्पेंड कर दिया था। अभिषेक दीक्षित पर भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने और पोस्टिंग में करप्शन करने के आरोप लगे थे। इसके बाद उन्हें मुख्यालय से संबद्ध करते हुए सस्पेंड कर दिया गया था।

मुख्य संवाददाता

Police Media

Police Media News

Leave a comment