Smart Policing

महाराष्ट्र पुलिस ने यूपी की दो लापता मासूम बेटियों को पहुंचाया घर

महाराष्ट्र पुलिस ने यूपी की दो लापता मासूम बेटियों को पहुंचाया घर

महाराष्ट्र के ठाणे पुलिस का एक सराहनीय कार्य सामने आया है। जहां पुलिस ने उत्तर प्रदेश से लापता हुई दो मानसिक रूप से कमजोर मासूम बच्चियों का ईलाज करवाकर उनके घर पहुंचाया। ठाणे पुलिस को रेलवे स्टेशन के पास से दो मासूम बच्चियां लावारिस अवस्था में मिली थीं। जब पुलिस उनसे उनके बारे में पूछताछ की तो पुलिस को पता लगा कि वह मानसिक रूप से कमजोर है। पुलिस ने उनको मेंटल अस्पताल में भर्ती करवाकर उनका ईलाज करवाया। 

OTHER VIDEO :

जानिए क्या है पूरा मामला 

जानकारी के मुताबिक महाराष्ट्र के ठाणे पुलिस को रेलवे स्टेशन के पास से 15 जनवरी के दिन दो मासूम बच्चियां लावारिस अवस्था में मिली थीं। जब पुलिस ने इनके बारे में पूछताछ कि तो पुलिस को पता लगा की इनमें एक की उम्र 7 और दूसरी सिर्फ चार वर्ष की है और बड़ी बहन मानसिक रूप से कमजोर है। पुलिस उन बच्चियों को ठाणे के मेंटल अस्पताल में भर्ती करवाकर उनका उपचार करवाया। कुछ दिनों में उपचार के बाद वे जब थोड़ी दुरुस्त हुई तब पुलिस ने उससे उसके घर के बारे में पूछना शुरू किया। बच्चियों ने भोजपुरी भाषा में पहले बताया कि वह बिहार के दिलदारनगर की रहने वाली हैं। हालांकि, पुलिस ने जब जांच की तब ऐसा कोई भी शहर उन्हें बिहार में नहीं मिला। पुलिस इसके बाद गूगल पर उत्तर प्रदेश में दिलदारनगर ढूंढा तो उन्हें मालूम पड़ा कि यह जगह यूपी के गाजीपुर जिले में है। 

OTHER VIDEO :

गाजीपुर पुलिस की मदद से दी परिजनों को सुचना 

ठाणे पुलिस ने गाजीपुर पुलिस से संपर्क किया। गाजीपुर पुलिस ने ठाणे पुलिस के अधिकारियों को बताया कि दो बच्चियों के गुमशुदगी की घटना उनके पुलिस स्टेशन में दर्ज है। ठाणे पुलिस ने गाजीपुर पुलिस को व्हाट्सऐप पर बच्चियों की फोटो भेजी। बच्चियों की शिनाख्त हो जाने के बाद बच्चियों के परिजनों को ठाणे बुलाकर उन्हें सौंप दिया गया। 

संवाददाता

Ankit Tailor

Police Media News

Leave a comment