Others

लोकसभा चुनाव का बजने वाला है बिगुल लेकिन पुलिस प्रशासन को 44 फरार ईनामी बदमाशों की कोई खबर नहीं

लोकसभा चुनाव का बजने वाला है बिगुल लेकिन पुलिस प्रशासन को 44 फरार ईनामी बदमाशों की कोई खबर नहीं

लोकसभा चुनाव 2019 अब सिर पर है। वहीं हैरानी की बात ये है कि उत्तराखंड पुलिस प्रशासन के पास गंभीर अपराधों को अंजाम देकर फरार चल रहे 44 इनामी बदमाशों की कोई खबर नहीं है। गौरतलब है कि फरार चल रहे इन बदमाशों में ढाई और पांच हजार के साथ ही 50 हजार रुपये का इनामी बदमाश खीम सिंह बोरा भी शामिल है, जिसने जिले में माओवादी गतिविधियों को अंजाम दिया था।

OTHER VIDEO :

जानिए पूरी खबर

लोकसभा चुनावों को लेकर बस उल्टी गिनती शुरू होने में है लेकिन पुलिस प्रशासन है कि अब भी गंभीर अपराधों को अंजाम देकर फरार चल रहे 44 इनामी कुख्यातों की टोह लेते नहीं दिख रहे हैं। आपको बता दें कि फरार चल रहे इन बदमाशों में ऊधमसिंह नगर जिले के 11, यूपी के 26, पश्चिम बंगाल, बिहार और अल्मोड़ा का एक-एक और राजस्थान के चार इनामी शामिल हैं। वहीं आपको बता दें कि अपराध की दृष्टि से बेहद संवेदनशील जाने जाने वाले ऊधमसिंह नगर में 44 ऐसे बदमाश पुलिस रिकॉर्ड में हैं, जो गंभीर अपराधों को अंजाम देकर फरार हैं। 

OTHER VIDEO :

माओवादी खीम सिंह बोरा पर घोषित है 50 हजार का इनाम

वहीं कुछ समय बाद लोकसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में पुलिस प्रशासन अपराधियों की धरपकड़ करने के साथ ही उनके खिलाफ गुंडा एक्ट और जिला बदर की कार्रवाई करता है। पुलिस ने इनकी धरपकड़ के लिए इन पर एक से पांच हजार रुपये तक इनाम घोषित किया गया है। इसके अलावा अल्मोड़ा जिले के माओवादी खीम सिंह बोरा पर शासन की ओर से 50 हजार का इनाम रखा गया है। बोरा ने ऊधमसिंह नगर में माओवादी गतिविधियों को अंजाम देने के साथ ही माओवादियों को प्रशिक्षण दिया था।

OTHER VIDEO :


बदमाशों पर इनामी राशि एक लाख 80 हजार रुपये से अधिक

यहां बता दें कि फरार चल रहे 44 इनामी बदमाशों में एक हजार का एक, पांच हजार के 11, ढाई हजार के 31 और 50 हजार का एक बदमाश शामिल है। इनमें से 11 बदमाशों पर डीआईजी, 32 पर एसएसपी और एक पर शासन की ओर से इनाम घोषित किया गया है। सभी बदमाशों पर इनामी राशि एक लाख 80 हजार रुपये से अधिक की है।

लेखक

Anshul vajpayee

Police Media News

Leave a comment